बड़ी खबर: भारत पर एक बार फिर हमलावर हुयी चीनी मीडिया, कहा- भारत ने खुद किया है एलने जंग….

चीन और भारत में लगातार तनातनी जारी है. चीन ने भारतीय सैनिकों पर बॉर्डर में घुसने और सड़क निर्माण का काम रोकने का आरोप लगाया है, वहीं भारत के दो बंकरों को भी तोड़ दिया गया है. इसी के साथ ही चीनी मीडिया भी भारत पर हमलावर हो गया है. चीनी वेब पॉर्टल में एक आर्टिकल में लिखा है कि लगता है भारत पर 1962 की हार का काफी गहरा असर पड़ा है.बड़ी खबर: भारत पर एक बार फिर हमलावर हुयी चीनी मीडिया, कहा- भारत ने खुद किया है एलने जंग....

लेख में कहा गया है कि सिक्किम बॉर्डर के मुद्दे पर भी स्थानीय मीडिया ने निशाना साधते हुए इस घटना को भी 1962 की जंग के दौरान अमेरिकी समर्थन से जोड़ते हुए देख रहा है. लेख में कहा गया है कि भारत की मीडिया लगातार इस तरह का माहौल बना रही है, जैसे कि चीन के सैनिकों ने बॉर्डर को क्रॉस कर उनकी सरजमीं में कदम रख दिया हो.

ये भी पढ़े: सीएम आदित्यनाथ को नहीं पसंद आया प्रधानमंत्री आवास, दिया बदलाव के लिए निर्देश..

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया अमेरिका यात्रा से जोड़ते हुए कहा कि अभी जुलाई में ही भारत, अमेरिका, जापान हिंद महासागर में मिलट्री एक्सरसाइज करेंगे. इसके अलावा भी भारत, चीन के मुद्दे पर रूस से भी संबंध बनाए हुए है.

ये भी पढ़े: आजम ने खुद को बताया BJP की आइटम गर्ल, कहा- PM मोदी की सेना का गिरा हौसला..

ग्लोबल टाइम्स ने अपने लेख में लिखा है कि सिक्किम एक आजाद देश था, लेकिन 1975 में वह भारत के साथ जुड़ गया था. चीन और सिक्किम के बीच पहले ही बॉर्डर को लेकर फैसला हो चुका था, भारत सरकार को इस मुद्दे पर कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. अधिकतर दिक्कत पश्चिमी हिस्से को लकर है. 2006 में दोनों देशों के बीच सिक्किम नाथू ला को लेकर फैसला हुआ था.

You May Also Like

English News