चीन की अर्थव्यवस्था पर मंडराया संकट, कई कंपनियां हो सकती हैं दिवालिया

अमेरिका और चीन के बीच व्यापार युद्ध चल रहा है। इसी बात को लेकर अब चीन ने चिंता जताई है। एक चीनी अधिकारी ने अमेरिका द्वारा ऐसा किये जाने पर गुरुवार को कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चीन के खिलाफ लिए जाने वाले फैसलों से कई चीनी कंपनियों को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। इससे कई चीनी कंपनियां दिवालिया हो सकती हैं। उन्होंने कहा कि इन गंभीर परिणामों से बचने के लिए चीन को सख्त कदम उठाने की आवश्यकता है।

चीन की सुप्रीम पीपल्स पार्टी के उपनिदेशक डु वानहुआ का कहना है कि अभी उनके लिए यह अनुमान लगाना बेहद मुश्किल है कि ये व्यापार युद्ध कहां तक आगे बढ़ेगा और किस हद तक जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर अमेरिका चीनी सामानों के आयात पर 60 अरब डॉलर, 200 अरब डॉलर और 500 अरब डॉलर के ऑर्डर के तहत टैरिफ्स लगाएगा तो चीन की कई कंपनियां इससे घाटे में पहुंच जाएंगी। ऐसा भी हो सकता है कि कंपनियों को दिवालिया होना पड़े। यह खबर चीन के पीपल्स डेली में प्रकाशित की गई थी।

बता दें चीन और अमेरिका के बीच लंबे समय से व्यापार चल रहा है। इस व्यापार में अमेरिका को काफी समय से घाटा हो रहा था। अमेरिका इस घाटे को कम करने के लिए ऐसे कदम उठा रहा है। इसके अलावा चीन ने भी अमेरिका के खिलाफ कुछ जवाबी कदम उठाए हैं लेकिन चीन के विशेषज्ञ इनसे खुश नहीं हैं। उनका मानना है कि ऐसा करने से व्यापार युद्ध को बढ़ावा मिलेगा जो कि कहीं से भी लाभदायक नहीं होगा।

गौरतलब है कि ट्रंप ने 34 अरब डॉलर मूल्य के चीनी निर्यात पर 25 फीसदी का भारी शुल्क लगाया है। इसके साथ ही उन्होंने धमकी भी दी है कि 200 अरब डॉलर के निर्यात पर 10 फीसदी शुल्क लगाया जा सकता है। अधिकारी ने आगे कहा कि चीन को इस बड़े खतरे की तैयारी अभी से शुरू कर देनी चाहिए ताकि आगे चलकर इससे उबरा जा सके। साथ ही यहां की न्यायपालिका को भी दिवालियापन जैसे जटिल मामलों का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए।

You May Also Like

English News