चीन में दक्षिण कोरियाई पत्रकार को पीटा, लोग ने कहा- छोटे पड़ोसी को ना सताएं

दक्षिण कोरिया के समाचार जगत ने उस घटना पर गुस्सा और नाराजगी जताई है जिसमें चीन के सुरक्षा कर्मियों ने बीजिंग में राष्ट्रपति मून जे इन की यात्रा को कवर कर रहे दक्षिण कोरियाई फोटो पत्रकार को पीट पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया.चीन में दक्षिण कोरियाई पत्रकार को पीटा, लोग ने कहा- छोटे पड़ोसी को ना सताएंDiscovery: 8 ग्रहों वाला एक और सोलर सिस्टम NASA ने ढूंढ निकाला!

विपक्षी दलों और इंटरनेट उपयोक्ताओं ने कहा कि यह घटना छोटे पड़ोसियों के प्रति एशिया के बड़े देश के रवैये को दिखाती है. मुख्य विपक्षी लिबर्टी कोरिया पार्टी ने मून से अपनी चार दिवसीय यात्रा खत्म करने और तुरंत स्वदेश लौटने का अनुरोध किया. उसने कहा कि यह हिंसा समस्त दक्षिण कोरिया के खिलाफ आतंकवादी हमला है.

गौरतलब है कि चीन के सुरक्षा कर्मियों ने दक्षिण कोरिया के फोटोग्राफरों को मून के प्रतिनिधिमंडल का पीछा करने से रोका. इसके बाद फोटोग्राफर को जमीन पर धक्का दिया गया और मारा गया. इससे उसकी मुंह की हड्डियों में फ्रैक्चर आ गया और आंख की नसें क्षतिग्रस्त हो गई.

इसे चीनी सुरक्षाकर्मियों द्वारा बल का भयावह इस्तेमाल बताया. लोगों ने सोशल मीडिया पर भी इसका विरोध किया. 

गौरतलब है कि नॉर्थ कोरिया से खट्टे रिश्तों के कारण चीन और दक्षिण कोरिया के रिश्ते ठीक नहीं हैं. एक ओर दक्षिण कोरिया के संबंध नॉर्थ कोरिया से खराब हैं तो चीन उसका अच्छा दोस्त है.

You May Also Like

English News