चेन्नई को एक और झटका, चोटिल रैना 2 मैच के लिए बाहर

आईपीएल में 2 साल के बैन के बाद इस सीजन में वापसी कर चुकी चेन्नई सुपर किंग्स की मुश्किलें और बढ़ती जा रही हैं. पहले कावेरी विवाद के बाद टीम के मैचों को घरेलू मैदान से पुणे में ट्रांसफर करने का फैसला लिया गया और अब टीम के विस्फोटक बल्लेबाज सुरेश रैना भी चोट की वजह से अगले 2 मैचों में टीम से बाहर रहेंगे.   आईपीएल में 2 साल के बैन के बाद इस सीजन में वापसी कर चुकी चेन्नई सुपर किंग्स की मुश्किलें और बढ़ती जा रही हैं. पहले कावेरी विवाद के बाद टीम के मैचों को घरेलू मैदान से पुणे में ट्रांसफर करने का फैसला लिया गया और अब टीम के विस्फोटक बल्लेबाज सुरेश रैना भी चोट की वजह से अगले 2 मैचों में टीम से बाहर रहेंगे.     चेन्नई सुपर किंग्स ने अपनी वेबसाइट पर यह जानकारी दी है. कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ बीते मैच में सुनील नरेन की गेंद पर एक रन लेने के दौरान रैना को पिंडली की मांसपेशी में चोट लगी थी. बता दें कि सीएसके 15 अप्रैल को मोहाली में किंग्स इलेवन पंजाब और 20 अप्रैल को पुणे में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच खेलेगी.  इससे पहले केदार जाधव भी हैमिस्ट्रिंग चोट के कारण टीम से बाहर हो गए थे. दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस और भारत के सलामी बल्लेबाज मुरली विजय भी पूरी तरह फिट नहीं हैं. खिलाड़ियों का लगातार चोटिल होना धोनी की अगुवाई वाली CSK के लिए चुनौतियां खड़ी कर सकता है. खासतौर पर रैना का टीम से बाहर जाना CSK को काफी अखरेगा क्योंकि वो न सिर्फ बैट से बल्कि फील्डिंग में भी टीम के लिए काफी उपयोगी साबित होते आए हैं.  इस बीच कावेरी जल विवाद के कारण बीसीसीआई को चेन्नई के बाकी घरेलू मैच पुणे में कराने का फैसला लेना पड़ा. प्रदेश प्रशासन ने कहा था कि वह आईपीएल मैचों की सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करने में असमर्थ है. चेन्नई और केकेआर के मैच से पहले भी बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुआ था और मैच के दौरान चेन्नई के रवींद्र जडेजा पर जूता भी फेंका गया गया था.

चेन्नई सुपर किंग्स ने अपनी वेबसाइट पर यह जानकारी दी है. कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ बीते मैच में सुनील नरेन की गेंद पर एक रन लेने के दौरान रैना को पिंडली की मांसपेशी में चोट लगी थी. बता दें कि सीएसके 15 अप्रैल को मोहाली में किंग्स इलेवन पंजाब और 20 अप्रैल को पुणे में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच खेलेगी.

इससे पहले केदार जाधव भी हैमिस्ट्रिंग चोट के कारण टीम से बाहर हो गए थे. दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस और भारत के सलामी बल्लेबाज मुरली विजय भी पूरी तरह फिट नहीं हैं. खिलाड़ियों का लगातार चोटिल होना धोनी की अगुवाई वाली CSK के लिए चुनौतियां खड़ी कर सकता है. खासतौर पर रैना का टीम से बाहर जाना CSK को काफी अखरेगा क्योंकि वो न सिर्फ बैट से बल्कि फील्डिंग में भी टीम के लिए काफी उपयोगी साबित होते आए हैं.

 इस बीच कावेरी जल विवाद के कारण बीसीसीआई को चेन्नई के बाकी घरेलू मैच पुणे में कराने का फैसला लेना पड़ा. प्रदेश प्रशासन ने कहा था कि वह आईपीएल मैचों की सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करने में असमर्थ है. चेन्नई और केकेआर के मैच से पहले भी बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुआ था और मैच के दौरान चेन्नई के रवींद्र जडेजा पर जूता भी फेंका गया गया था.  

You May Also Like

English News