चैंपियंस ट्रॉफी: भारत का सेमीफाइनल का टिकट तये कराएंगे ये 11 खिलाड़ी..

रविवार को भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच महामुकाबला खेला जाएगा। कथित रूप से इस क्वार्टर फाइनल में जो टीम जीतेगी, वो सेमीफाइनल में पहुंचेग और हारने वाली टीम का पत्ता साफ हो जाएगा। वहीं दक्षिण अफ्रीका के सामने भी यही चुनौती है। पूल-बी की सबसे बड़ी 2 टीमों में से सिर्फ एक का अंतिम-4 में पहुंच पाना, हैरान करने वाला है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच से पहले ये 11 ग्यारह खिलाड़ी मैदान में उतर सकते हैं: चैंपियंस ट्रॉफी: भारत का सेमीफाइनल का टिकट तये कराएंगे ये 11 खिलाड़ी..अभी:अभी: मुश्किल में आए सैफ अली खान, बीएमसी लगाएगी जुर्माना

सलामी बल्लेबाज
शिखर धवन और रोहित शर्मा ने इस चैंपियंस ट्रॉफी में टीम को शानदार शुरुआत दी है। दोनों ही मैचों में शतकीय साझेदारी करने वाले रोहित और शिखर ने पाकिस्तन के खिलाफ 136 और और श्रीलंका के खिलाफ 138 रन जोड़े। धवन अब तक दो मैचों में से 193 रन और रोहित 169 रनों का योगदान दे चुके हैं। ऐसे में बदलाव की कोई गुंजाइश ही नहीं।

मध्यक्रम
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली नंबर 3 पर टीम के लिए योगदान देते रहेंगे। श्रीलंका के खिलाफ खाता भी न खोल पाने वाले कोहली ने पाकिस्तान के विरुध 81 रनों की धमाकेदार नाबाद पारी खेली थी। कोहली के अलावा टीम को नंबर-4 युवराज सिंह का योगदान मिलेगा। बल्ले से श्रीलंका के खिलाफ शांत रहने वाले युवी ने पाकिस्तान के खिलाफ ताबड़तोड़ पारी खेली थी।

फीनिशर
वनडे क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी से बड़ा कोई फीनिशर नहीं। अगर, धोनी का हेलीकॉप्टर चल पड़ा, तो गेंद का तारामंडल का सफर तय है। श्रीलंका के खिलाफ 52 गेंदों में 63 रन जड़ने वाले धोनी अगर थोड़ा जल्दी हाथ खोलते, तो शायद भारत 350 के पार होता। इसके अलावा भारत के पास केदार जाधव भी होंगे, नंबर 6 पर आकर तेजी से रन बनाने के अलावा बड़ी पारी भी खेल सकते हैं।

ऑलराउंडर
पाकिस्तान के खिलाफ गेंद और बल्ले से शानदार हरफनमौला खेल दिखाने वाले हार्दिक पांड्या और लेफ्ट आर्म स्पिनर रविंद्र जडेजा दक्षिण अफ्रीकी टीम की परीक्षा लेंगे। पांड्या की लंबे हिट्स खेलने की ताकत और जडेजा का बाएं हाथ का स्पिनर होना, दोनों को अश्विन पर तरजीह देते हैं। जडेजा के अलावा टीम में सिर्फ युवराज ही बाएं हाथ के गेंबाज हैं।

You May Also Like

English News