छापेमारी में सेवानिवृत्त कर्नल के घर क्या-क्या मिला पढ़कर आपभी हो जायेंगे दंग!

मेरठ: उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद राजस्व खुफिया निदेशालय और वन विभाग की ओर से 17 घंटे तक की गई संयुक्त छापेमारी के दौरान सेना के रिटायर्ड कर्नल के मकान से नीलगाय का कम से कम 117 किलो मांस, जानवर की चमड़ी, हाथी दांत और 40 बंदूकें बरामद की गई हैं। डीआरआई के अधिकारियों का एक दल शनिवार दोपहर को कर्नल देविंद्र कुमार के आवास पर पहुंचा। यह छापेमारी तड़के साढ़े तीन बजे तक जारी रही। 

कर्नल और उनके बेटे प्रशांत पर वन जीव संरक्षण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। कुमार के बेटे प्रशांत बिश्नोई राष्ट्रीय स्तर के निशानेबाज हैं। डीआरआई के एक अधिकारी ने कहा कि यह छापेमारी आय से अधिक संपत्ति के मामले में की गई। कुमार के आवास के एक अस्थायी गोदाम में नीलगाय का 117 किलो मांस, एक करोड़ नकदी, 40 बंदूकें, हिरणों की पांच खोपडिय़ों, सांभर हिरण के सींग, काले हिरण और चिकारा के सींग, जानवर की खाल और हाथी दांत बरामद किए गए। रिटायर्ड कर्नल देवेंद्र कुमार सिंह सिविल लाइन कोठी नंबर 36-4 में रहते हैं। इनकी कोठी पर शनिवार को डायरेक्ट्रेट ऑफ  रेवेन्यू इंटेलीजेंस दिल्ली की टीम ने छापा मारा था। इस दौरान वन विभाग के अधिकारी संजीव कुमार उपप्रभागीय वन अधिकारी समेत करीब छह लोगों की टीम भी छापेमारी में शामिल थी।
कर्नल के बेटे प्रशांत विश्नोई को बिहार में नीलगाय को मारने का ठेका मिला हुआ था और इसकी आड़ में वन्य जीवों के अवशेषों की तस्करी का काला कारोबार किया जा रहा था। हिरण का मीट भी घर से बरामद किया गया जिसे बाहर सप्लाई किया जाता था। इस पूरे मामले में वन अधिकारी की ओर से सिविल लाइन थाने में रिटायर्ड कर्नल देवेंद्र कुमार और उनके बेटे प्रशांत के खिलाफ  वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है। अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। रिटायर्ड कर्नल देवेंद्र कुमार अपनी पत्नी  संगीता कुमार और बेटे प्रशांत बिशनोई उर्फ  पाशा के साथ रहते है। उनका बेटा अंतरराष्ट्रीय स्तर का शूटर है। जैसे ही छापेमारी की खबर आई वैसे ही वो फरार हो गया। रिटायर्ड कर्नल के घर से विदेशी राइफल्स और पिस्टल बरामद हुई है।

इस नेशनल शूटर को पिछले दिनों बिहार में 500 नीलगाय मारने का ठेका मिला था। शूटिंग की आड़ में वन्य जीवों की हत्या कर तस्करी करने का खेल भी माना जा रहा है। प्रशांत यूपी से पिछले 1 साल से शूटिंग चैंपियनशिप खेल रहा है। वह दिल्ली में डॉक्टर कर्णी सिंह शूटिंग स्टेडियम में प्रैक्टिस करता है। इस साल भी स्टेट और नेशनल चैंपियनशिप में हिस्सा ले चुका है। वह फिलहाल दिल्ली में ही रह रहा था। वनों के प्रमुख संरक्षक मुकेश कुमार ने कहा नील गाय का मांस फ्रिज से बरामद किया गया है। इसमें से नमूना लिया गया और इसे परीक्षण के लिए प्रयोगशाला में भेजा जाना है। उन्होंने कहा कि सेवानिवत्त सैन्य अधिकारी और बिश्नोई के खिलाफ  वन्यजीवन संरक्षण कानूनए 1972 के तहत कार्रवाई की जाएगी। हालांकि उनके खिलाफ  अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है।

You May Also Like

English News