छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरें हुईं तय, जानें इस तिमाही में कितना मिलेगा फायदा

छोटी बचत योजनाओं पब्ल‍िक प्रोविडेंट फंड और नेशनल सेविंग्स स्कीम्स में निवेश करने वालों को आने वाली तिमाही में ज्यादा ब्याज नहीं मिलने वाला है. केंद्र सरकार ने जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए इन योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज में कोई बदलाव नहीं किया है.छोटी बचत योजनाओं पब्ल‍िक प्रोविडेंट फंड और नेशनल सेविंग्स स्कीम्स में निवेश करने वालों को आने वाली तिमाही में ज्यादा ब्याज नहीं मिलने वाला है. केंद्र सरकार ने जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए इन योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज में कोई बदलाव नहीं किया है.  बता दें कि छोटी बचत योजनाओं के लिए हर तिमाही में ब्याज दरें अध‍िसूचित की जाती हैं. वित्त मंत्रालय ने इस संबध में एक अध‍िसूचना जारी कर बताया कि 1 जुलाई से 30 सितंबर, 2018 के लिए  छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया जा रहा है.  इस अध‍िसूचना के मुताबिक पांच साल की सीनियर सिटीजंस सेविंग्स स्कीम पर फिलहाल 8.3 फीसदी ही ब्याज मिलता रहेगा. बता दें कि इस स्कीम के तहत हर तिमाही में ब्याज खाते में क्रेडिट किया जाता है. इसके अलावा सेविंग्स डिपोजिट्स पर ब्याज दर भी 4 फीसदी सालाना पर ही रखी गई हैं.  इसके अलावा पब्ल‍िक प्रोविडेंट फंड (PPF) और नेशनल सेविंग्स सर्टिफ‍िकेट (NSC) पर आपको 7.6 फीसदी का सालाना ब्याज मिलता रहेगा. वहीं किसान विकास पत्र की बात करें तो इस पर 7.3 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा.  सुकन्या समृद्ध‍ि योजना पर आपको 8.1 फीसदी ब्याज दर ही मिलती रहेगी. वहीं, 1-5 साल की टर्म डिपोजिट्स पर 6.6-7.4 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा. वहीं, 5 साल के रिकरिंग डिपोजिट पर 6.9 फीसदी ब्याज मिलेगा.  छोटी बचत योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज की घोषणा करने के साथ ही वित्त मंत्रालय ने बताया कि छोटी बचत योजनाओं को गर्वनमेंट बॉन्ड यील्ड्स से जोड़ा जाएगा.

बता दें कि छोटी बचत योजनाओं के लिए हर तिमाही में ब्याज दरें अध‍िसूचित की जाती हैं. वित्त मंत्रालय ने इस संबध में एक अध‍िसूचना जारी कर बताया कि 1 जुलाई से 30 सितंबर, 2018 के लिए  छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया जा रहा है.

इस अध‍िसूचना के मुताबिक पांच साल की सीनियर सिटीजंस सेविंग्स स्कीम पर फिलहाल 8.3 फीसदी ही ब्याज मिलता रहेगा. बता दें कि इस स्कीम के तहत हर तिमाही में ब्याज खाते में क्रेडिट किया जाता है. इसके अलावा सेविंग्स डिपोजिट्स पर ब्याज दर भी 4 फीसदी सालाना पर ही रखी गई हैं.

इसके अलावा पब्ल‍िक प्रोविडेंट फंड (PPF) और नेशनल सेविंग्स सर्टिफ‍िकेट (NSC) पर आपको 7.6 फीसदी का सालाना ब्याज मिलता रहेगा. वहीं किसान विकास पत्र की बात करें तो इस पर 7.3 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा.

सुकन्या समृद्ध‍ि योजना पर आपको 8.1 फीसदी ब्याज दर ही मिलती रहेगी. वहीं, 1-5 साल की टर्म डिपोजिट्स पर 6.6-7.4 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा. वहीं, 5 साल के रिकरिंग डिपोजिट पर 6.9 फीसदी ब्याज मिलेगा.

छोटी बचत योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज की घोषणा करने के साथ ही वित्त मंत्रालय ने बताया कि छोटी बचत योजनाओं को गर्वनमेंट बॉन्ड यील्ड्स से जोड़ा जाएगा.

You May Also Like

English News