जब अदालत ने दी सजा प्रेमिका की तारीफ लिखो 144 बार, मत दोहराना कोर्इ बात

होनोलूलु से कुछ वक्त पहले एक मामले में अजीबो गरीब सजा सुनाने का किस्सा सामने आया था। यहां की एक अदालत ने डारेन यंग नाम के एक शख्स को सजा दी की वो अपनी पूर्व प्रमिका की तारीफ में 144 वाक्य लिखे। शर्त ये थी कि एक भी बात को दोहराना नहीं है। हो सकता है कि कुछ लोगों को ये सजा मजेदार, आसान या एक बालिग शख्स के लिए बचकानी लगे, मगर वास्तव में एेसा बिल्कुल नहीं है। क्योंकि अदालत ने उसे ये तब करने को कहा था जब यंग ने अपनी पूर्व प्रेमिका को अपशब्दों से परेशान कर दिया था आैर 144 मैसेजेस आैर फोन करके तकलीफ पहुंचार्इ थी। होनोलूलु से कुछ वक्त पहले एक मामले में अजीबो गरीब सजा सुनाने का किस्सा सामने आया था। यहां की एक अदालत ने डारेन यंग नाम के एक शख्स को सजा दी की वो अपनी पूर्व प्रमिका की तारीफ में 144 वाक्य लिखे। शर्त ये थी कि एक भी बात को दोहराना नहीं है। हो सकता है कि कुछ लोगों को ये सजा मजेदार, आसान या एक बालिग शख्स के लिए बचकानी लगे, मगर वास्तव में एेसा बिल्कुल नहीं है। क्योंकि अदालत ने उसे ये तब करने को कहा था जब यंग ने अपनी पूर्व प्रेमिका को अपशब्दों से परेशान कर दिया था आैर 144 मैसेजेस आैर फोन करके तकलीफ पहुंचार्इ थी।    क्या था मामला   काॅसमोपालिटिन में दी गर्इ खबर के अनुसार 30 वर्षीय डारेन यंग को अदालत ने सख्त आदेश दिया था कि वे अपनी पूर्व प्रेमिका से किसी तरह का संपर्क करने की कोशिश न करें। डारेन ने अदालती आदेश को गंभीरता से नहीं लिया और दो महीने के अंदर ही नियम भंग करने का काम शुरूकर दिया। एक दिन तीन घंटे के भीतर ही उन्होंने अपनी गर्लफ्रेंड को 144 बार फोन कॉल किए और मैसेज भेज दिए। इससे परेशान पूर्व प्रेमिका ने अदालत के आदेश के उल्लंघन का मामला दर्ज करा दिया। आदेश भंग करने से नाराज जज ने इस बार उसे इस बार कड़ा सबक सिखाने का फैसला किया जिसके चलते उसे 157 दिनों की जेल और 2400 डॉलर अर्थदंड की सजा तो दी ही गर्इ। इससे भी जब जज महोदय का गुस्सा शांत नहीं हुआ, तो उन्होंने आदेश दिया कि यंग अपनी पूर्व प्रेमिका की प्रशंसा में 144 बार कुछ लिखें और ध्यान रहे कि यह प्रशंसा हर बार अलग हो। जज का ये अनोखा फैसला सोशल मीडिया पर भी जम कर वायरल हुआ।

क्या था मामला 

काॅसमोपालिटिन में दी गर्इ खबर के अनुसार 30 वर्षीय डारेन यंग को अदालत ने सख्त आदेश दिया था कि वे अपनी पूर्व प्रेमिका से किसी तरह का संपर्क करने की कोशिश न करें। डारेन ने अदालती आदेश को गंभीरता से नहीं लिया और दो महीने के अंदर ही नियम भंग करने का काम शुरूकर दिया। एक दिन तीन घंटे के भीतर ही उन्होंने अपनी गर्लफ्रेंड को 144 बार फोन कॉल किए और मैसेज भेज दिए। इससे परेशान पूर्व प्रेमिका ने अदालत के आदेश के उल्लंघन का मामला दर्ज करा दिया। आदेश भंग करने से नाराज जज ने इस बार उसे इस बार कड़ा सबक सिखाने का फैसला किया जिसके चलते उसे 157 दिनों की जेल और 2400 डॉलर अर्थदंड की सजा तो दी ही गर्इ। इससे भी जब जज महोदय का गुस्सा शांत नहीं हुआ, तो उन्होंने आदेश दिया कि यंग अपनी पूर्व प्रेमिका की प्रशंसा में 144 बार कुछ लिखें और ध्यान रहे कि यह प्रशंसा हर बार अलग हो। जज का ये अनोखा फैसला सोशल मीडिया पर भी जम कर वायरल हुआ।

You May Also Like

English News