जब पहली बार परदे पर बिकनी वाली हीरोइन को देख चौंके दर्शक

70 और 80 का दशक….ये वो दौर था जब हीरोइनें रोमांटिक और इमोशनल किरदार कर रही थीं और फिल्मों में खलनायिका का चलन था। और इसी दौर में एक हीरोइन रहीं जिन्होंने अपने बोल्ड अवतार से सभी को घायल कर दिया और खलनायिका की भूमिकाओं भी नया आयाम दिया।जब पहली बार परदे पर बिकनी वाली हीरोइन को देख चौंके दर्शक

ये हीरोइन थीं लीना दास, जो 80 के दशक की जानी-मानी खलनायिका और कैबरे डांसर रहीं। फिल्मों में उन्हें अपनी एक्टिंग का जौहर दिखाने का ज्यादा मौका तो नहीं मिला, लेकिन चंद मिनटों के रोल में वो गहरी छाप छोड़ जाती थीं। शुरुआत में कुछ फिल्मों के बाद उन्हें फिल्मों में डांसर के किरदार ही मिलने लगें और उन्होंने उन्हें भी बखूबी निभाया। उनके डांस के सभी लोग कायल थे।

आखिर क्यों? बिग बॉस की इस प्रतिभागी को हुई शो से नफरत, जानिए

अगर ये कहा जाए कि लीना दास एक बेहतरीन कैबरे डांसर ही नहीं बल्कि एक्टिंग और हाव-भाव का भी बेजोड़ मेल थीं तो गलत नहीं होगा। 

 लेकिन एक वक्त पर तब भूचाल आ गया जब लीना ने एक फिल्म में एक सीन के लिए बिकनी पहनी। हालांकि वो पहली हीरोइन नहीं थीं जिसने इस तरह का बोल्ड कदम उठाया हो।उनसे पहले शर्मिला टैगोर 60 के दशक में बिकनी पहन चुकी थीं। लेकिन वो दौर शायद बोल्ड सीन और बिकनी को लेकर ज्यादा खुले विचारों वाला नहीं था।
 लीना ने कुछ ही फिल्मों में काम किया और उसके बाद उन्होंने गायक मोहम्मद रफी के बेटे शाहिद से शादी कर ली। और आज ये हीरोइन चकाचौंध की दुनिया से पूरी तरह दूर है। ना तो फिल्म इंडस्ट्री के लोगों ने उनकी खोज खबर ली और ना ही उनके लिए फिर कोई रोल ही लिखा गया।

 लीना ने डांस के अलावा फिल्मों में एक्टिंग भी की, लेकिन एक कैबरे डांसर के तौर पर वो ज्यादा जानी गईं।लीना ने ज्यादातर फिल्मों में खलनायिका का रोल अदा किया और उन्हें उसमें बेहद पसंद भी किया गया। ‘नामोंनिशान’, ‘जख्मी शेर’, ‘मेरा नाम है शबनम’ उनकी कुछ ऐसी फिल्में रहीं जिनमें उन्हें बेहद पसंद किया गया।

 

You May Also Like

English News