जम्मू-कश्मीर की राह पर बिहार में भी बीजेपी तोड़ सकती है गठबंधन

हाल ही में जम्मू-कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी के गठबंधन टूटने के बाद एक बार फिर से बीजेपी यही चीज बिहार में भी दोहरा सकती है. यह कहना है कांग्रेस के नेता शक्ति सिंह गोहिल का जिन्होंने इस बात का अंदेशा जताते हुए कहा है कि बीजेपी बिहार में नितीश कुमार की सरकार को गिराकर अपना समर्थन वापस ले सकती है.हाल ही में जम्मू-कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी के गठबंधन टूटने के बाद एक बार फिर से बीजेपी यही चीज बिहार में भी दोहरा सकती है. यह कहना है कांग्रेस के नेता शक्ति सिंह गोहिल का जिन्होंने इस बात का अंदेशा जताते हुए कहा है कि बीजेपी बिहार में नितीश कुमार की सरकार को गिराकर अपना समर्थन वापस ले सकती है.  शक्ति सिंह गोहिल इस मौके पर गुजरात के वडोदरा में थे, यहीं अपनी बातचीत में उन्होंने कहा है कि जम्मू-कश्मीर की राह बीजेपी बिहार में भी पकड़ सकती है, इसलिए समर्थन वापसी की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता. वहीं गोहिल ने इस बारे में बिहार को स्पेशल राज्य का दर्जा न देने को लेकर नरेंद्र मोदी की आलोचना भी की है.   एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में गोहिल ने कहा है कि "हाल ही में हुई नीति आयोग की बैठक में जब मोदी के सामने नीतीश कुमार ने स्पेशल बिहार को स्पेशल राज्य का दर्जा देने की मांग की तो मोदी ने इसके लिए नीतीश कुमार को मना कर दिया. वहीं इस मामले में गोहिल ने आगे कहा कि मोदी के इस तरह अपमानित किए जाने के बाद भी नीतीश कुमार एनडीए में बने हुए है, और गठबन्धा को बरक़रार रखे हुए है.

शक्ति सिंह गोहिल इस मौके पर गुजरात के वडोदरा में थे, यहीं अपनी बातचीत में उन्होंने कहा है कि जम्मू-कश्मीर की राह बीजेपी बिहार में भी पकड़ सकती है, इसलिए समर्थन वापसी की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता. वहीं गोहिल ने इस बारे में बिहार को स्पेशल राज्य का दर्जा न देने को लेकर नरेंद्र मोदी की आलोचना भी की है. 

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में गोहिल ने कहा है कि “हाल ही में हुई नीति आयोग की बैठक में जब मोदी के सामने नीतीश कुमार ने स्पेशल बिहार को स्पेशल राज्य का दर्जा देने की मांग की तो मोदी ने इसके लिए नीतीश कुमार को मना कर दिया. वहीं इस मामले में गोहिल ने आगे कहा कि मोदी के इस तरह अपमानित किए जाने के बाद भी नीतीश कुमार एनडीए में बने हुए है, और गठबन्धा को बरक़रार रखे हुए है. 

You May Also Like

English News