जम्मू कश्मीर के उड़ी सेक्टर में जंगबंदी का उल्लंघन तीन जवान हुए जख्मी…

उत्तरी कश्मीर के उड़ी(बारामुला) सेक्टर में पाकिस्तानी सैनिकों ने इतवार को बिना किसी उकसावे के भारतीय सैन्य ठिकानों पर अचानक गोलाबारी शुरु कर दी। इसमें तीन जवान जख्मी हो गए। भारतीय जवानों ने भी जवाबी गोलाबारी करते हुए पाकिस्तानी खेमे में तबाही मचाने का दावा किया है।लेकिन एलओसी पर हुए नुक्सान की तत्काल पुष्टि नहीं हो पाई है। जम्मू कश्मीर के उड़ी सेक्टर में जंगबंदी का उल्लंघन तीन जवान हुए जख्मी...J & K: पत्थरबाजों की मदद से फिर से भागने में कामयाब हुआ आतंकी जाकिर मूसा

यहां मिली जानकारी के  अनुसार, आज शाम चार बजे के करीब एलओसी पार से पाकिस्तानी सैनिकों ने  उड़ी सेक्टर के अंतर्गत बाज चौकी के इलाके में भारतीय सैन्य ठिकानों पर अचानक गोलाबारी शुरु कर दी। पाकिस्तानी सैनिकों ने तोप और मोर्टार के गोले दागे। इस गोलाबारी मे सेना की 20 सिक्ख रेजिमेंट के तीन  सिपाही बलविंद्र सिंह, सिपाही कुलविंद्र सिंह और सिपाही गुरुजन सिंह जख्मी हो गए। 

संबधित सैन्य सूत्रों ने बताया कि भारतीय जवानों ने पहले तो पाकिस्तानी गोलाबारी का कोई जवाब नहीं दिया। लेकिन अपने तीन साथियों को जख्मी होते देख, उन्होंने भी जवाबी फायर किया। करीब सवा घंटे तक दोनों तरफ से एक दूसरे के ठिकाने पर गोलाबारी होती रही। इसके बाद पाकिस्तानी बंदूकें पूरी तरह शांत हो गई। 

सैन्य सूत्रों ने बताया कि जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी खेमे में जबरदस्त नुकसान हुआ है। वहां एक ही जगह से आग की बड़ी -बड़ी लपटें निकलती देखी गई। लेकिन पाकिस्तानी सैनिकों को हुए नुकसान की तत्काल पूरी जानकारी नहीं मिल पाई है। 

इस बीच, तीनों घायल सैनिकों को उपचार के लिए हैलीकाप्टर के जरिए श्रीनगर स्थित सेना के 92 बेस अस्पताल में लाया गया है। तीनों की हालत गंभीर बताई जाती है। 

उड़ी सेक्टर में जंगबंदी के उल्लंघन के बाद पूरे उत्तरी कश्मीर में एलओसी के साथ  सटे सभी इलाकों में तैनात सैन्यकर्मियों को किसी भी आपात स्थिति से निपटने और पाकिस्तानी सेना के किसी भी दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब देने का निर्देश जारी कर दिया गया है। 

You May Also Like

English News