श्रीनगर: खुद अपने ही जवान ने मेजर को मारी गोली, मेजर की मौके पर ही मौत

श्रीनगर: जम्‍मू-कश्‍मीर में नियंत्रण रेखा के पास एक सैन्‍य चौकी में आपसी कहासुनी में एक जवान ने मेजर को गोली मार दी. मेजर की मौके पर ही मौत हो गई. पुलिस के मुताबिक 8वीं राष्‍ट्रीय राइफल्‍स के मेजर शिखर थापा नियंत्रण रेखा के पास बुचार पोस्‍ट पर तैनात थे. बीती रात नायक कथीरेसन जी के साथ कहासुनी होने पर मेजर को गोली मार दी. पुलिस के मुताबिक मेजर थापा की मौके पर ही मौत हो गई. पुलिस मामले की जांच कर रही है.श्रीनगर: खुद अपने ही जवान ने मेजर को मारी गोली, मेजर की मौके पर ही मौत
इस बीच मंगलवार को कश्मीर के अनंतनाग के वनिहामा में सुरक्षाबलों ने लश्कर के तीन आतंकियों को मार गिराया है. मारे गए आतंकियों के शव बरामद कर लिए गए हैं. शवों के पास से एक SLR, AK47 और एक पिस्टल और ग्रेनेड बरामद हुए हैं. इन आतंकियों की पहचान शौकत लौहार, मुदस्सिर और जिब्रान के तौर पर हुई है. शौकत और मुदस्सिर लोकल आतंकी हैं, जबकि जिब्रान पाकिस्तान का है. ये ऑपेरशन जम्मू-कश्मीर पुलिस, सीआरपीएफ और सेना ने संयुक्त तौर पर चलाया था. सोमवार शाम को 7 बजे आतंकियों की जानकारी मिली और रात 9 बजे सुरक्षाबलों ने आतंकियों को मार गिराया.

भंडारकर ने कांग्रेस से किया सवाल- कहा- देश की सबसे पुरानी पार्टी एक फिल्म से क्‍यों डर रही है, क्या…!

इससे पहले 15 जुलाई को भी त्राल में सुरक्षाबलों ने ऐसी ही कार्रवाई में तीन जैश के आतंकियों को ढेर कर दिया था. पिछले छह महीने सुरक्षाबलों ने करीब 100 आतंकी मार गिराए हैं. इससे पूर्व शनिवार को हुई मुठभेड़ में तीन आतंकी ढेर हो गए थे. पुलवामा जिले में शनिवार तड़के आंतकवाद-रोधी अभियान में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए थे, जबकि तीसरा गुफा में छिप गया था. पुलिस महानिदेशक एसपी वैद ने संवाददाताओं को बताया था कि मारे गए आतंकवादियों के शव बरामद कर लिए गए हैं. वैद ने कहा कि मृतक आतंकवादी विदेशियों जैसे लग रहे हैं और वे शायद जैश ए मोहम्मद गुट से जुड़े हैं. अभियान में पैरा कमांडो और हेलीकॉप्टर भी शामिल हुए थे.

You May Also Like

English News