जल्दी ब्रेक पर गया था कर्मचारी, बॉस ने लाइव टीवी पर देश से मांगी माफी

जापान में एक सरकारी कर्मचारी के तय समय से पहले ही लंच ब्रेक पर जाने का विवाद बढ़ गया है. जापान के कोबे शहर में कर्मचारी जब तीन मिनट पहले ही लंच ब्रेक पर गया तो उसकी सैलरी काट ली गई. मामला बढ़ने के बाद चार वरिष्ठ अधिकारियों ने लाइव टीवी पर पूरे देश से माफी मांगी है. ये तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.जापान में एक सरकारी कर्मचारी के तय समय से पहले ही लंच ब्रेक पर जाने का विवाद बढ़ गया है. जापान के कोबे शहर में कर्मचारी जब तीन मिनट पहले ही लंच ब्रेक पर गया तो उसकी सैलरी काट ली गई. मामला बढ़ने के बाद चार वरिष्ठ अधिकारियों ने लाइव टीवी पर पूरे देश से माफी मांगी है. ये तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.  अधिकारियों की ओर से बयान में कहा गया है कि सर्विस को समय पर पूरा करना हमारी जिम्मेदारी है, अगर तय समय में कोई अधिकारी मौजूद नहीं होता है तो हमारी गलती है. इसलिए हम माफी मांगते हैं.  क्या है पूरा मामला?  जापान में कंपनी ने अपने वर्कर की सैलरी सिर्फ इसलिए काट ली क्योंकि वह तय समय से तीन मिनट पहले लंच ब्रेक के लिए गया था. जी, सिर्फ तीन मिनट पहले. हालांकि, कंपनी की ओर से जब शख्स का डाटा साझा किया गया तो पूरी बात सामने आई. दरअसल, शख्स ने इसको अपनी आदत बना लिया था और पिछले 7 महीने में कुल 26वीं बार ऐसा हुआ था कि वह समय से पहले लंच के लिए गया हो.  कंपनी में लंच का समय 12 बजे से 1 बजे तक तय है. लेकिन 64 वर्षीय वर्कर समय से पहले ही लंच पर जाता था. कंपनी ने सुरक्षा और अन्य कारणों से व्यक्ति का नाम उजागर नहीं किया है.  स्थानीय मीडिया के अनुसार, जब समय से पहले लंच पर जाना एक आदत बन गई थी. जिसके बाद बॉस ने एक बैठक बुलाई और सार्वजनिक तौर पर इस फैसले का ऐलान किया. सजा के तौर पर व्यक्ति की आधे दिन की सैलरी काट ली गई.  कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि हमारे देश के यह नियम है कि व्यक्ति को ऑफिस में रहने के समय पूरी तरह से काम पर ध्यान रखना चाहिए. अगर वह काम के समय ऑफिस में नहीं है तो नियमों का उल्लंघन कर रहा है. पिछले 6 महीने में वर्कर करीब 55 घंटे तक ऑफिस समय से गायब रहा.  गौरतलब है कि जापान में अन्य देशों की तरह काम का कल्चर नहीं है, वहां पर हर चीज समय पर पूरे ढंग से की जाती है. कई बार जापान में ट्रेन समय से लेट आने, बस में देरी हो जाने के कारण जुर्माना भी लगा है. इसके अलावा भी वहां पर अगर आप तय समय से ज्यादा काम कर रहे हैं तो आप अपनी ही डेस्क पर खा सकते हैं.

अधिकारियों की ओर से बयान में कहा गया है कि सर्विस को समय पर पूरा करना हमारी जिम्मेदारी है, अगर तय समय में कोई अधिकारी मौजूद नहीं होता है तो हमारी गलती है. इसलिए हम माफी मांगते हैं.

क्या है पूरा मामला?

जापान में कंपनी ने अपने वर्कर की सैलरी सिर्फ इसलिए काट ली क्योंकि वह तय समय से तीन मिनट पहले लंच ब्रेक के लिए गया था. जी, सिर्फ तीन मिनट पहले. हालांकि, कंपनी की ओर से जब शख्स का डाटा साझा किया गया तो पूरी बात सामने आई. दरअसल, शख्स ने इसको अपनी आदत बना लिया था और पिछले 7 महीने में कुल 26वीं बार ऐसा हुआ था कि वह समय से पहले लंच के लिए गया हो.

कंपनी में लंच का समय 12 बजे से 1 बजे तक तय है. लेकिन 64 वर्षीय वर्कर समय से पहले ही लंच पर जाता था. कंपनी ने सुरक्षा और अन्य कारणों से व्यक्ति का नाम उजागर नहीं किया है.

स्थानीय मीडिया के अनुसार, जब समय से पहले लंच पर जाना एक आदत बन गई थी. जिसके बाद बॉस ने एक बैठक बुलाई और सार्वजनिक तौर पर इस फैसले का ऐलान किया. सजा के तौर पर व्यक्ति की आधे दिन की सैलरी काट ली गई.

कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि हमारे देश के यह नियम है कि व्यक्ति को ऑफिस में रहने के समय पूरी तरह से काम पर ध्यान रखना चाहिए. अगर वह काम के समय ऑफिस में नहीं है तो नियमों का उल्लंघन कर रहा है. पिछले 6 महीने में वर्कर करीब 55 घंटे तक ऑफिस समय से गायब रहा.

गौरतलब है कि जापान में अन्य देशों की तरह काम का कल्चर नहीं है, वहां पर हर चीज समय पर पूरे ढंग से की जाती है. कई बार जापान में ट्रेन समय से लेट आने, बस में देरी हो जाने के कारण जुर्माना भी लगा है. इसके अलावा भी वहां पर अगर आप तय समय से ज्यादा काम कर रहे हैं तो आप अपनी ही डेस्क पर खा सकते हैं.

You May Also Like

English News