जांच में सनसनीखेज खुलासा- दाती महाराज के तीन सौतेले भाइयों ने भी किया था दुष्कर्म

राजस्थान निवासी 25 वर्षीय युवती के साथ न केवल शनिधाम मंदिर के संस्थापक दाती महाराज ने सालों तक दुष्कर्म किया, बल्कि उसके तीन सौतेले भाई भी उन्हें हवस का शिकार बनाते रहे। युवती इन्हें दाती के खास शिष्य समझती थी, मगर क्राइम ब्रांच की जांच में यह जानकारी सामने आने के बाद उन्हें सच का पता चला। जांच के दौरान हुए इस सनसनीखेज खुलासे से पुलिस भी हैरान है।

क्राइम ब्रांच के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, दाती महाराज के आरोपित सौतेले भाइयों के नाम अनिल, अशोक और अर्जुन हैं। ये तीनों सगे भाई हैं और दाती महाराज के दिल्ली तथा राजस्थान स्थित आश्रम, कॉलेज और अस्पताल के प्रबंधन का कामकाज देखते हैं। इसके अलावा ये तीनों रुपयों का लेखाजोखा भी रखते हैं। क्राइम ब्रांच ने दाती व उसके तीनों सौतेले भाइयों को नोटिस भेजकर बीते शनिवार को ही जांच में शामिल होने को कहा था, लेकिन कोई भी जांच में शामिल नहीं हुआ। 

इधर, रविवार को जांच के सिलसिले में क्राइम ब्रांच की 15 सदस्यीय टीम एसीपी तथा इंस्पेक्टर रितेश कुमार के नेतृत्व में राजस्थान के पाली स्थित आश्रम गई थी। वहां आश्रम के खास सेवक ने क्राइम ब्रांच को आश्वासन दिया था कि दाती महाराज सोमवार को दोपहर दो बजे चाणक्यपुरी स्थित इंटर स्टेट सेल में पहुंचकर जांच में शामिल होगा। क्राइम ब्रांच को उम्मीद है कि दाती सोमवार को जांच में शामिल होगा। क्राइम ब्रांच ने उसके तीन अन्य भाइयों को भी सोमवार को जांच में शामिल होने को कहा है।

संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार के मुताबिक, जो आरोपित जांच में शामिल नहीं होंगे, उन्हें दोबारा नोटिस भेजा जाएगा। इधर, क्राइम ब्रांच ने पिछले पांच दिनों के दौरान प्रारंभिक जांच में काफी सुबूत जुटा लिए हैं। आसोला गांव स्थित दाती के आश्रम के दो कमरों और पाली स्थित आश्रम के दो कमरों में ही दाती और उसके तीनों सौतेले भाई युवती के साथ दरिंदगी करते रहे। इन चारों कमरों का मुआयना कर फर्द निशानदेही तैयार कर ली गई है। साथ ही डीवीआर (डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर) और दस्तावेज भी जब्त किए गए हैं।

 

You May Also Like

English News