जानवरों के लिए खुद चारा काटता है ये MLA, लग्जरी लाइफ जीना मंजूर नहीं

लखनऊ. MLA और मिनिस्टर एक बार बन जाने के बाद अक्सर नेताओं की लॉटरी लग जाती है। उनका लाइफ स्टाइल बिल्कुल बदल जाता है।पैदल चलने वाला शख्स लग्जरी गाड़ियों की सवारी करने लगता है। संपत्ति में गजब का बदलाव होता है। लेकिन, यूपी के एक BJP विधायक के साथ ये लागू नहीं होता है। वे विधायक के साथ-साथ राज्य सरकार में मिनिस्टर भी रह चुके हैं।बैजनाथ रावतइस बार फिर से हैदरगढ़ विधानसभा से MLA चुने गए हैं। 14 साल के बाद बैजनाथ रावत ने बीजेपी को इस सीट पर जीत दिलाई है। MLA होने के बावजूद वे जानवरों को खुद चारा देते हैं। घर के सामने झाड़ू लगाते भी बैजनाथ कई बार दिख जाते हैं।

ईमानदारी की मिसाल देते हैं जिले के लोग

– बता दें कि बैजनाथ रावत की तारीफ पूरे जिले के लोग करते हैं। उनकी ईमानादारी की चर्चा पूरे जिले में होती है।

– MLA बैजनाथ रावत सुबह से शाम तक लोगों से बड़ी सादगी से मुलाकात करते रहते हैं।

– वे आज भी अपने पुराने मकान में ही रहते हैं। उनके घर के सामने गाड़ियों की कोई फौज नहीं होती है।

– बीजेपी विधायक एक किसान की तरह खेतों में काम भी करते हैं।

– घर में पल रहे जानवरों के लिए खुद से चारा लाकर काटते हैं। घर की साफ-सफाई भी बैजनाथ करते दिखते हैं।

इनका क्या है कहना?

– बीजेपी MLA बैजनाथ का कहना है कि उनकी जिंदगी का मूल मंत्र सादगी है।

– ईमानदारी और सादगी की वजह से ही लोगों ने 18 साल बाद उन्हें चुना है। 

– रावत ने बताया कि यहां की जनता उनकी काफी इज्जत करती है। लोगों ने बड़ी उम्मीद से उन्हें वोट दिया है।

– इनके मुताबिक सड़क, बिजली, पानी जैसी समस्याओं को उन्हें दूर करना है।

– बीजेपी के ये नेता 18 साल पहले MLA और प्रदेश में उर्जा मंत्री हुआ करते थे।

– इसके बाद उन्हें जीतने का मौका नहीं मिला। 

– दो बार से लगातार जीत रहे सपा विधायक को हरा कर बैजनाथ सिंह रावत MLA बने हैं।

– उन्होंने बताया कि केंद्रीय गृहमंत्री भी हैदरगढ़ से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे थें।

मिनिस्टर भी बन सकते हैं बैजनाथ

– बीजेपी की नई सरकार में बैजनाथ रावत को भी जगह मिल सकती है।

– सूत्रों के मुताबिक बैजनाथ को मिनिस्टर भी बनाया जा सकता है।

– सादगी और कामकाज का फल मंत्रालय के रूप में उन्हें मिल सकता है।

You May Also Like

English News