जानिए कैसे ग्रहों के योग से व्यक्ति को मिलता है प्रशासनिक पद और मान-सम्मान

हमारी कुंडली में जो ग्रह अच्छी स्थिति में होता है, वह हम पर अच्छा प्रभाव डालता है और अशुभ स्थिति में होने पर बुरा फल देते हैं। सपने हर कोई देखता है और उन सपनों को पूरा करने के लिए कठिन मेहनत भी करता है। लेकिन उन्हें अपना लक्ष्य हासिल होगा या नहीं, यह पता नहीं होता। ज्योतिष के हिसाब से आइए जानते हैं कि क्या आप प्रशासनिक अफसर बन पाएंगे या नहीं। 

सूर्य ग्रह को सभी ग्रहों का राजा माना जाता है और यह ग्रह हमें मान-सम्मान प्रदान करता है। सूर्य हमारी कुंडली में शुभ होने पर यह हमे समाज में प्रसिद्धि दिलाता है। जिस किसी की कुंडली में सूर्य ग्रह प्रबल होता है इसे प्रशासानिक पद मिलता है।
मंगल हमारे धैर्य और पराक्रम को दर्शाता है। शुभ मंगल होने पर व्यक्ति कुशल प्रबंधक बन जाता है। वही अगर मंगल अशुभ होने पर व्यक्ति के अंदर डर की भावना रहती है। मंगल के प्रभाव से व्यक्ति को सेना में जाने इच्छा पैदा करता है।

You May Also Like

English News