जानिए क्यों सनी देओल किसी भी अवार्ड फंक्शन में नहीं जाते है…

बॉलीवुड में अपने ढाई किलो के हाथ के लिए मशहूर एक्टर ‘सनी देओल’ हाल में हमे फिल्म ‘पोस्टर बॉयज’ में नजर आये थे. सनी को शायद ही हमने किसी भी बॉलीवुड पार्टीज या अवार्ड्स शो में देखा हो. सिर्फ सनी ही नहीं बल्कि आमिर खान, नाना पाटेकर जैसे और भी कई सितारे इन इवेंट्स में जाना पसंद नहीं करते है. लेकिन ऐसे में सवाल यह उठता है कि इन सितारों को ऐसे इवेंट्स में जाना ही पसंद नहीं है या फिर इसका कोई कारण है. बाकि एक्टर्स का तो पता नहीं लेकिन सनी देओल के इन इवेंट्स में ना जाने की वजह हम आपको बता रहे है.जानिए क्यों सनी देओल किसी भी अवार्ड फंक्शन में नहीं जाते है...अभी-अभी: चेतन भगत ने फिल्म हाफ गर्लफ्रेंड को लेकर कही ये बड़ी बात…

दरअसल सनी को ऐसी कोई जगह जाना नहीं पसंद जहां सब कुछ बिका हुआ हो. एक इंटरव्यू में सनी ने बताया कि, ‘बॉलीवुड पार्टियों का मतलब शराब और गॉसिप होता है. इन पार्टियों में ना जाने की वजह से शुरुआती दिनों में मुझे लोग गुस्सैल और नखरेबाज समझते थे. मेरे पार्टियों में ना जाने से लोगों के ईगो को ठेस पहुंचती थी.’

सनी ने यह भी बताया कि, ‘सारी बी-टाउन पार्टियां एक जैसी ही होती हैं. चाहे वह फिल्मी पार्टी हो या कोई दूसरी. सभी में शराब और गॉसिप जोर-शोर से चलता है.’ सनी ऐसी सभी चीजों से दूरी बनाकर चलते हैं. वैसे तो सनी देओल स्वभाव से थोड़े शर्मीले हैं, वो बचपन से ही शर्मीले हैं. वो आज भी फिल्मों से जुड़े कार्यक्रमों में नहीं जाते हैं.

सनी से पूछे जाने पर कि वो किसी भी अवार्ड्स फंक्शन में क्यों नहीं जाते है तो उन्होंने कहा कि, ‘ मेरे लिए ये अवॉर्ड नाइट नहीं हैं. मुझे समझ नहीं आता ये अवॉर्ड्स कैसे दिए जाते हैं. कभी किसी ने आज तक ये नहीं बताया कि अवॉर्ड के लिए चुनने का आधार क्या है. हां, यह कहते जरूर हैं कि देश की जनता ने चुना है, लेकिन उसका कोई प्रूफ नहीं दिखाते. वोटिंग कैसे होती है, किसे कितने वोट मिलते हैं, जो बेस्ट चुना जाता है, उसे क्या वाकई जनता ने वोट दिया है फिर…? समझने वाले के लिए इशारा ही काफी है. मैं सिर्फ इतना कह सकता हूं कि मैं बॉलीवुड में कई ऐसे लोगों को जानता हूं, जिन्हें अवॉर्ड फंक्शन में शिरकत होने के बदले पैसे दिए जाते हैं.’ सनी के मुताबिक उनके लिए दर्शकों का प्यार ही असली अवॉर्ड है.

You May Also Like

English News