जानिए, विवादों से घिरी राधे मां की जिंदगी की अनोखी दास्तान…

राधे मां कहीं बाद में पहुंचती हैं, विवाद उससे पहले पहुंच जाते हैं. आखिर क्यों है राधे मां ऐसी? क्यों राधे मां पर दहेज के लिए लड़की को सताने से लेकर अश्लीलता फैलाने और फर्जी संत होने तक के इल्जाम लग चुके हैं? क्यों राधे मां को अक्सर ये लगता है कि वो अगर जहर खाकर कर अपनी जान ही दे देती, तो अच्छा होता?जानिए, विवादों से घिरी राधे मां की जिंदगी की अनोखी दास्तान...Big Breaking: अब तक की सबसे बड़ी खबर गुजरात चुनाव की डेट की घोषणा, 18 दिसम्बर को होगी मतगणना!

हर आरोप पर चुप्पी

उस पर पाखंडी होने के इल्ज़ाम लगे, वो चुप रही. लोगों ने उसे ठग कहा, वो कुछ नहीं बोली. घर तुड़वाने की तोहमत लगी, तब भी उसके लब खामोश थे. मगर अब सुनिए सबसे पहले सिर्फ आजतक पर राधे मां का दर्द और उसकी आप-बीती. उसकी ज़िंदगी के हर पहलू.. हर राज़.. ससुराल से लेकर मायके तक.. दिल्ली लेकर मुंबई तक.. जानिए बब्बो से लेकर भगवान बनने तक की पूरी कहानी.

राधे मां जब आजतक के कैमरे पर आई तो उसने कहा ‘मैं नहीं हूं दुर्गा का अवतार. मेरा त्रिशूल मेरा धर्म है. मैं इंसानियत को मानती हूं. नहीं बदलूंगी अपना स्टाइल. जो फर्ज़ी कहेगा, वो भुगतेगा. मेरी कोई गुप्त गुफा नहीं है. मैं ज़हर खाना चाहती थी. मेरे ऊपर लगे आरोप झूठे हैं.’

लेकिन राधे मां से आजतक की बातचीत की ये तो सिर्फ शुरूआत भर थी. आजतक के कैमरे के सामने राधे मां ने अपने सारे राज़ खोल दिए. कभी वो हंसी. कभी रोई. कभी बेबस सी खामोश हुई और आख़िर में नाराज़ होकर भाग गई.

विवादों से पुराना नाता

दरअसल, पिछले चंद सालों में राधे मां का नाम इतने सारे विवादों से जुड़ा कि गिननेवाले भी थक जाएं. राधे मां के इन विवादों में अश्लीलता फैलाने से लेकर, दहेज के लिए सताने, खुदकुशी के लिए उकसाने के साथ-साथ अपने गुरु के क़त्ल का विवाद भी शामिल है. ये और बात है कि राधे मां इन तमाम विवादों के लिए खुद से जलने वालों को ज़िम्मेदार मानती है.

पल पल रंग बदलती राधे मां

वो कभी भजन-कीर्तन करने वाली देवी बन जाती है, तो कभी फ़ैशन की दुनिया में धमाल मचाने वाली बेबी. मगर राधे मां की शख्सियत के सिर्फ़ यही दो पहलू नहीं है. बल्कि राधे मां तो और भी बहुत कुछ ऐसा कर करती हैं, जो कोई और लड़की करने की सोच भी नहीं सकती. और तभी राधे मां को लेकर एक विवाद ख़त्म होता नहीं कि दूसरा शुरू हो जाता है. और राधे मां के इन विवादों और राधे मां पर लगने वाले इन इल्ज़ामों मामूली और छोटे-मोटे आरोपों से लेकर ऐसे-ऐसे संगीन गुनाहों तक के इल्ज़ाम शामिल हैं कि सुन कर यकीन करना भी मुश्किल हो जाए.

दहेज उत्पीड़न का आरोप 

राधे मां पर ये आरोप भी किसी ग़ैर ने नहीं, बल्कि राधे मां को चाहने वाले एक परिवार की बहू ने ही लगाए थे. इस लड़की ने राधे मां के खिलाफ़ मुंबई के कांदीवली थान में एक रिपोर्ट लिखवाई थी. लड़की ने बताया था कि राधे मां ने लड़के वालों को 25 लाख रुपए दहेज मांगने के लिए उकसाया. शादी में आऩे के लिए हेलीकॉप्टर और महंगी कार की मांग की और हेलीकॉप्टर की मांग पूरी नहीं होने पर शादी के बाद उस पर ज़ुल्मो-सितम का सिलसिला शुरू हो गया. इस मामले में पुलिस ने राधे मां से पूछताछ भी की और उन्हें हाजिरी देने थाना भी जाना पड़ा था.

यौन उत्पीड़न का आरोप

कभी उनकी भक्त रहीं फिल्म और टीवी एक्ट्रेस डॉली बिंद्रा ने भी राधे मां पर संगीन आरोप लगाए थे. डॉली बिंद्रा ने कहा था कि राधे मां के दरबार में उसका यौन शोषण किया गया. डॉली ने राधे मां के खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई थी और पुलिस ने राधे मां पर अश्लीलता फैलाने के आरोप में भी केस दर्ज किया था.

अपने ही गुरु का मर्डर

यही नहीं, राधे मां पर अपने गुरु महंत रामाधीन दास परमहंस की हत्या की साजिश का आरोप भी लगा. आरोप भी किसी और ने नहीं बल्कि उनके गुरु भाई महंत श्याम सुंदर दास ने आरोप लगाए थे. कांगड़ा के आश्रम में रहने वाले श्याम सुंदर दास ने कहा था कि राधे मां ने ये साज़िश दरअसल, गुरुजी की दौलत हासिल करने के लिए रची थी.

महामंडलेश्वर से फ़र्ज़ी संत तक

राधे मां को लेकर उठने वाले विवादों के सिलसिले में साल 2012 में तब एक और विवाद और जुड़ गया था, जब संतों के जूना अखाड़े ने आनन-फानन में उन्हें महामंडलेश्वर की पदवी दे डाली थी. बवाल बढ़ा तो ये उपाधि वापस ले ली गई. आरोप लगा कि महामंडलेश्वर की उपाधि हासिल करने के लिए राधे मां ने भारी रकम देने की भी पेशकश की थी. लेकिन अब तो बात और बढ़ गई है. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने राधे मां को फ़र्ज़ी संत करार दिया है.

तंत्र-मंत्र और काला जादू

राधे मां पर तंत्र-मंत्र और काले जादू के जरिए कई लोगों को ठगने औऱ परेशान करने के आरोप भी लगे. बताया जाता है कि अपने आपको देवी का अवतार कहने वाली राधे मां जादू-टोना और तंत्र-मंत्र में भी माहिर हैं. राधे मां पर एक इल्जाम ये भी लगा कि काले जादू और तंत्र मंत्र के जरिए उसने लोगों को फंसाया और सुसाइड तक के लिए उकसाया था.

खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोप

राधे मां पर गुजरात के कच्छ में एक परिवार के 5 लोगों को खुदकुशी के लिए उकसाने का इल्जाम भी लगा था. कहा जा रहा है कि खुदकुशी करने वाले परिवार के लोगों ने राधे मां को इस भरोसे में अपनी सारी जायदाद दान कर दी कि उनकी जिंदगी में खुशहाली आएगी. लेकिन ऐसा कुछ हुआ नहीं, तो हताशा में उन लोगों ने खुदकुशी कर ली. हालांकि राधे मां शुरू से काले जादू और तंत्र मंत्र के आरोपों से इनकार करती हैं. लेकिन सच यही है कि राधे मां को लेकर विवादों और इल्ज़ामों की कोई कमी नहीं.

loading...

You May Also Like

English News