जानें कैसे होता है कॉल सेंटर में काम, जॉब के लिए ऐसे करें खुद को तैयार

बेरोजगारी के इस दौर में कॉल सेंटर ने लाखों युवाओं को नौकरी देने में काफी मदद की है. 10वीं, 12वीं पास और ग्रेजुएट छात्रों को कॉल सेंटर में नौकरी मिल जाती है. अगर आप भी कॉल सेंटर में नौकरी करना चाहते हैं, तो पहले जान लें उससे जुड़ी ये बातें..जानें कैसे होता है कॉल सेंटर में काम, जॉब के लिए ऐसे करें खुद को तैयार

जानें क्या है कॉल सेंटर

कॉल सेंटर को बीपीओ भी कहा जाता है. जिसकी फुल फॉर्म ‘Business process outsourcing’ है. कॉल सेंटर दो तरह के होते हैं. 1. In bond कॉल सेंटर 2. Out bond कॉल सेंटर .

In bond कॉल सेंटर: इसमें ग्राहक खुद अपनी समस्या को लेकर कॉल करते हैं.

Out bond कॉल सेंटर: इसमें कस्टमर केयर ग्राहक को कॉल करते हैं.

कॉल सेंटर में काम करने के लिए जरूरी स्किल्स

– उम्मीदवार को हिंदी और अंग्रेजी भाषा का अच्छा ज्ञान हो.

– कंप्यूटर और टाइपिंग का काफी अच्छा ज्ञान हो.

– उम्मीदवार के अंदर सुनने और समझते की क्षमता होनी चाहिए.

– अपनी बात स्पष्ट रूप से साबित कर सके. उम्मीदवार को इस तरह बोलना आना चाहिए.

कैसे होता है कॉल सेंटर में काम

जो भी उम्मीदवार कॉल सेंटर में काम करता है. पहले उसे खास तरह की ट्रेनिंग दी जाती है. खासकर फोन पर जिस देश के लोगों की समस्याएं उन्हें सुननी हैं, उसके बारे में उन्हें बताया जाता है. भले ये लोग उन देशों में कभी नहीं गए हो, ट्रेनिंग में उस जगह के तौर तरीकों की जानकारी उन्हें दी जाती है.

इन खास शब्दों की दी जाती है ट्रेनिंग

कॉल सेंटर में खास शब्दों की ट्रेनिंग दी जाती है. जिसे उन्हें ग्राहकों से बातचीत के दौरान इस्तेमाल करना होता है. जैसे- नमस्कार, ठीक है, हांजी, धन्यवाद, आपका दिन शुभ रहे आदि.

इसी के साथ एक स्क्रिप्ट तैयार की जाती है. जिसमें उम्मीदवारों को बताया जाता है कि वह स्क्रिप्ट के अनुसार ही बोलें. वहीं उन्हें बताया जाता है यदि ग्राहक अभद्र भाषा का प्रयोग करता है तो उन्हें कैसे परिस्थिति को संभालना होगा. 

ऑडिटर रखते हैं खास ध्यान

ट्रेनिंग के बाद उम्मीदवारों को कॉल पर बात करने के लिए कहा जाता है. जिसके बाद उनके कॉल को ऑडिटर सुनते हैं. जहां वह उन्हें उनकी गलतियां और सही करने का तरीका समझाते हैं.

कॉल सेंटर का इंटरव्यू

ऐसा नहीं है कि कॉल सेंटर में किसी को भी नौकरी मिल जाती है. उम्मीदवार की कम्युनिकेशन स्किल्स (बात करने की कला), मल्टी-टास्किंग स्किल्स (एक से अधिक काम करने की योग्यता), विनम्रता और आपकी समझ को परखने के बाद कॉल सेंटर में नौकरी के लिए उम्मीदवार का चयन किया जाता है.

कॉल सेंटर इंटरव्यू के दौरान पूछे जाते हैं ये सवाल

– अपने बारे में कुछ बताएं?

– कॉल सेंटर के बारे में आपका विचार क्या है?

– आप कॉल सेंटर में काम क्यों करना चाहते हैं?

– आपकी ताकत और कमजोरियों क्या हैं?

– आप हमारी कंपनी के लिए काम क्यों करना चाहते हैं?

-आप अपने आप को पांच साल से कहां देखते हैं?

– आपकी आपेक्षित वेतन क्या हैं?

– आप कस्टमर को कैसे हैंडल करेंगे?

You May Also Like

English News