जान लीजिये, 11 दिसंबर के बाद पूरी जनवरी नहीं है एक भी शुभ मुहूर्त

देवउठनी एकादशी के बाद सभी तरह के शुभ कार्य शुरू हो जाते हैं, लेकिन इस बार देव जागने के 18 दिन बाद भी कोई वैवाहिक और अन्य मांगलिक कार्यों के लिए शुभ मुहूर्त नहीं होने की वजह से दांपत्य जीवन में प्रवेश के उत्सुक लोगों को थोड़ा ज्यादा इंतजार करना पड़ेगा.जान लीजिये, 11 दिसंबर के बाद पूरी जनवरी नहीं है एक भी शुभ मुहूर्त अशुभ मंगल को शुभ बनाने के लिए कीजिये ये उपाय…

करीब 4 महीने के अंतराल के बाद नवंबर महीने से विवाह के शुभ मुहूर्त शुरू हो रहे हैं. इस साल नवंबर में 19, 23, 29, 30 तारीख को विवाह के शुभ मुहूर् त बन रहे हैं. नवंबर 2017 में 19 से 23 तक और 28 से 30 तक विवाह के शुभ मुहूर्त हैं. इसके बाद दिसंबर में 3, 4, 5, 8 से 11 तक विवाह के आयोजन किए जा सकेंगे. हालांकि दिसंबर के बाद सीधे फरवरी में विवाह के शुभ मुहूर्त बन रहे हैं. 

जनवरी में शुक्र ग्रह के अस्त के कारण विवाह के शुभ मुहूर्त नहीं हैं. इसके बाद मुहूर्त 7 फरवरी 2018 से शुरू होंगे जो मार्च में होलाष्टक प्रारंभ होने तक रहेंगे.

 

You May Also Like

English News