जामिया मिल्लिया विश्विद्यालय : एडमिशन, कोर्सेस, आवेदन प्रक्रिया आदि की जानकारी एक नजर में

12वीं कक्षा के परिणाम जारी होने के बाद छात्र अक्सर कॉलेज के चयन को लेकर असमंजस में रहते हैं. अधिकतर छात्र कॉलेज या विश्विद्यालय के चयन से खुश नही रहते है. जबकि अधिकतर स्टूडेंट्स को कॉलेज के बारे में सही जानकारी नहीं होती है. इसलिए वे कॉलेज का चयन करने में सक्षम नहीं रहते हैं. इसी कड़ी में बात अगर देश के प्रतिष्ठित कॉलेज या विश्वविद्यालय की की जाए तो इसके बारे में हर कोई जानना चाहता है. आज हम आपसे देश के प्रतिष्ठित जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यलय की बात करेंगे. यहां हम जानेंगे कि आखिर जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में किन विषयों में एडमिशन मिलता है. और इन कोर्सेस में कैसे एडमिशन लिया जा सकता हैं. और यहां की दाखिले की प्रक्रिया कैसी हैं. 

जामिया के सेंटर फॉर डिस्टेंस ऐंड ओपन लर्निंग (सीडीओएल) में पोस्टग्रेजुएट, अंडरग्रेजुएट, पीजी डिप्लोमा, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट लेवल पर कुल 19 कोर्स में एडमिशन लिया जा सकता है. एमए लेवल पर इंग्लिश, सोशियॉलजी, एचआरएम, एजुकेशन, हिंदी, हिस्ट्री, पॉलिटिकल साइंस, पब्लिक ऐडमिनिस्ट्रेशन और  एमकॉम कोर्स उपलब्ध हैं जबकि ग्रेजुएशन लेवल पर बीए आर्ट्स (जनरल), बीकॉम, बैचलर ऑफ एजुकेशन (बीएड), बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (बीबीए), बैचलर ऑफ इंटरनैशनल बिजनस ऐंड फाइनैंस कोर्सेज में दाखिला मिलता हैं. 

जानिए किस प्रकार करना होता है आवेदन…

आवेदन करने के लिए ऑनलाइन एडमिशन फॉर्म और प्रोसपेक्टस यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर जारी किए जाते हैं. यहां से आप आवेदन फॉर्म भरें. और इसके बाद आप इन्हे सीधे यहां से सीडीओएल या अपने स्टडी सेंटर पर भी जमा कर सकते हैं. ध्यान रखें कि डाउनलोड किए गई फॉर्म को विश्वविद्यालय स्वीकार नहीं करेगा. आवेदन करने के साथ जहां लग-लग कोर्सेस के लिए 300 रुपए का भुगतान करना होगा. वहीं केवल बीएड कोर्स के लिए 500 रुपये जमा करने होंगे. यह राशि आप विश्वविद्यालय के नाम पर बने डिमांड ड्राफ्ट के साथ भी जमा कर सकते हैं. 

इस प्रकार मिलेगा आपको जामिया में एडमिशन…

दाखिले के लिए शॉर्टलिस्ट किए छात्रों को आवेदन जमा करने की आखिरी तारीख के एक सप्ताह बाद यूनिवर्सिटी वेबसाइट या स्टडी सेंटर के जरिए सूचना दी जाती हैं. 

You May Also Like

English News