जिस्मफरोशी के धंधे में हो रही Placement, झासे में फंस रहा देश का ये युवा

नई दिल्ली। भारत हर दिन विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। इस देश को लोग युवा देश के नाम से भी जानते हैं। यहां की आबादी का लगभग 60% आबादी युवा हैं। लेकिन इस विकास के दौर में भी तमाम युवा ऐसे हैं जो बेरोज़गारी की मार झेल रहे हैं।

युवा हर वो काम करने को तैयार हैं जो उन्हें एक बेहतर नौकरी दिलाए। ऐसे में कुछ लोग उनका नाजायज फ़ायदा भी उठा रहे हैं। हाल ही के एक सर्वे से पता चला है कि युवाओं को नौकरी का झांसा देकर उन्हें जिस्मफरोशी के धंधे में धकेलने के वारदातों की संख्या बढ़ रही है।

ग्रामीण इलाकों में फेसबुक और वाट्सऐप जैसी सोशल साइट्स पर सक्रिय युवाओं की पहली जरूरत रोजगार होती है और बड़े शहरों का आकर्षण उन्हें जाल में फंसाने का सबसे आसान तरीका होता है। इंटरनेट के माध्यम से ग्रामीण युवाओं की इसी कमजोरी का फायदा उठाया जा रहा है और उन्हें जाल में फंस के जिस्मफरोशी और वेश्यावृत्ति के धंधे में ढकेला जा रहा है। पिछले एक साल में भारत में जिस्मफरोशी के धंधे में 25% की बढ़ोतरी हुई है।

लड़कियों को जिस्मफरोशी के धंधे में लाने के लिए उन्हें फ़साने के नए तारिक निकाले गए हैं जिसमे से नौकरी का लालच भी शामिल है। 

दक्षिणी दिल्ली को राजधानी के सबसे पॉश इलाकों में से एक माना जाता है। झारखंड के दर्जनभर से ज्यादा युवाओं को जब यहां के एक होटल में नौकरी के लिए ऑफर मिला तो वो चौंक गए क्योंकि वो कोई आम नौकरी न हो कर जिस्मफरोशी का गंदा कुआँ था। हालांकि जांच के बाद इस खुलासे ने पुलिस को भी सकते में डाल दिया। जानकारों के मुताबिक पिछले कुछ समय से भारत के ग्रामीण और कस्बाई इलाकों में इंटरनेट और स्मार्ट फोन का इस्तेमाल तेजी से बढ़ा है जिसका इस्तेमाल करने वाले युवा लड़के-लड़कियां हैं।

दिल्ली एयरपोर्ट पर पकड़ी गई नागालैंड की 17 साल की युवती ने बताया कि उसने फेसबुक पर एक व्यक्ति से दोस्ती की जिसके बाद उससे बातचीत बढ़ने लगी। उसने नौकरी का लालच देकर उसे दिल्ली बुलाया और यहां से वह जिस्मफरोशी के धंधे में धकेलने का प्लान तैयार कर रहा था।

You May Also Like

English News