जींद की बाइक रैली से पहले एनजीटी का नोटिस

कभी -कभी किसी काम में शुरू से ही रोड़े आने लगते हैं,तो वे आखिर तक जारी रहते हैं. ऐसा ही कुछ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की 15 फरवरी को जींद में होने वाली बाइक रैली के साथ हुआ है .इनेलो और जाट समाज के विरोध के बीच अब एनजीटी ने बाइक रैली से होने वाले प्रदूषण को लेकर केंद्र और हरियाणा सरकार को नोटिस जारी किया है.जींद की बाइक रैली से पहले एनजीटी का नोटिस

उल्लेखनीय है कि भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह की 15 फरवरी को जींद में बाइक रैली निकालने वाले हैं, जिसका इनेलो पार्टी के अलावा जाट समाज विरोध कर रहा है.जाट समाज ट्रेक्टरों पर आकर शाह की रैली का विरोध करेंगे .यही नहीं इनेलो के कार्यकर्ता शाह की रैली का काले झंडों अौर काले गुब्बारों से विरोध करेंगे. इस बीच इस बाइक रैली के खिलाफ एनजीटी में याचिका दाखिल की गई है .

बता दें कि यह याचिका समीर सोढ़ी नामक शख्स द्वारा विक्टर ढीसा वकील के माध्यम से दाखिल की गई है जिसमें रैली में बाइक की संख्या को कम करने की मांग की गई है .अमित शाह की रैली से प्रदूषण के लिए खतरा होने की बात कही गई है. बता दे कि इस रैली में एक लाख से अधिक बाइक शामिल होंगी .एनजीटी ने इस मामले में केंद्र और हरियाणा सरकार को नोटिस जारी कर हरियाणा सरकार से 13 फरवरी तक जवाब में हलफनामा देने के निर्देश दिए गए हैं.इसलिए रैली से पहले यह दिन सभी के लिए बहुत अहम हो गया है.

You May Also Like

English News