जीएसटी के ग्राउंड रिपोर्ट की पांच अगस्त को समीक्षा करेगी परिषद

शनिवार आधी रात से लागू नई अप्रत्यक्ष कर प्रणाली जीएसटी के क्रियान्वन की स्थिति पांच अगस्त को जीएसटी परिषद पहली समीक्षा करेगी. माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के मामले में अधिकार प्राप्त यह परिषद उस दिन कुछ वस्तुओं पर जीएसटी की दरों की भी समीक्षा करेगी. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीईसी) की अध्यक्ष वनजा एन शर्मा ने बताया कि जीएसटी परिषद की पहली बैठक अगस्त के पहले शनिवार को होगी. इसमें इस नई कर प्रणाली के क्रियान्वन की स्थिति की समीक्षा की जाएगी.

जीएसटी के ग्राउंड रिपोर्ट की पांच अगस्त को समीक्षा करेगी परिषद

यह स्वतंत्र भारत में अब तक का सबसे बड़ा कर सुधार बताया जा रहा है और पूरा देश एक जैसी कर व्यवस्था के साथ एक बड़ा साझा बाजार बन गया है. वनजा ने कहा कि इस बैठक में यदि सदस्यों ने किसी माल पर कर की दर के बारे में कोई बात उठाई तो उसकी भी समीक्षा की जा सकती है. उन्होंने जीएसटी के अनुपालन में किसी प्रकार की गड़बड़ी की संभावना को खारिज किया और कहा कि इसके प्रति जागरूकता फैलाने के लिए अनेक कदम उठाए गए हैं.

उन्होंने कहा, यह एक अच्छा और सरल कर है और सभी पहलुओं से यह ठीक है. इतने कर, जिनकी संख्या 17 है, वे एक कर में मिल गए हैं. इससे निश्चित रूप से यह सरल हो गया है. वित्तय राज्य मंत्री संतोष गंवार ने इसे देश में अब तक का सबसे बड़ा आथर्कि सुधार बताया है. उन्होंने कल आधी रात को जीएसटी के उ्घाटन समारोह के बाद कहा,की यह ऐतिहासिक घड़ी है. जीएसटी में ग्राहकों को लाभ होगा. जरूरत हुई तो हम इसकी समीक्षा भी करेंगे.

You May Also Like

English News