जीत के बाद यह बोले कप्तान रहाणे

अफगान टीम भारत के पहली पारी में 474 रन के जवाब में 109 और 103 रन के अंदर ही सिमट गयी जिसके बाद कप्तान अजिंक्य रहाणे ने आज कहा कि उनकी टीम अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में आक्रामक खेल खेलने के लिए प्रतिबद्ध थी.अफगान टीम भारत के पहली पारी में 474 रन के जवाब में 109 और 103 रन के अंदर ही सिमट गयी जिसके बाद कप्तान अजिंक्य रहाणे ने आज कहा कि उनकी टीम अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में आक्रामक खेल खेलने के लिए प्रतिबद्ध थी.  यहाँ पर कप्तान रहाणे ने अपनी टीम के बल्लेबाजी इकाई विशेषकर सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और मुरली विजय की काफी तारीफ की जिन्होंने भारतीय पारी के दौरान शतक लगाए थे.रहाणे ने अफगानिस्तान की टीम की भी प्रशंसा की . उन्होंने कहा , ‘‘ लेकिन अफगानिस्तान को श्रेय देना चाहिए , जो शानदार थे. इसके बाद से वे आगे ही बढ़ेंगे. उनके तेज गेंदबाजों ने सचमुच अच्छी गेंदबाजी की , विशेषकर कल तीसरे सत्र में और मुझे पूरा भरोसा है कि वे सभी प्रतिद्वंद्वी टीमों के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करेंगे.’’     रहाणे ने नियमित कप्तान विराट कोहली की अनुपस्थिति में कप्तानी की. उन्होंने कहा , ‘‘ यह सचमुच काफी विशेष लग रहा है. अपने देश का नेतृत्व करना हमेशा ही सम्मान की बात होती है और हम इसमें आक्रामक होना चाहते थे.’’उन्होंने कहा, ‘‘ खिलाड़ी जैसे शिखर धवन और मुरली विजय ने शतक बनाये , लोकेश राहुल और हार्दिक पंड्या ने उपयोगी योगदान दिया. हम सभी के लिये अपनी बेसिक्स पर डटे रहना अहम था

यहाँ पर कप्तान रहाणे ने अपनी टीम के बल्लेबाजी इकाई विशेषकर सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और मुरली विजय की काफी तारीफ की जिन्होंने भारतीय पारी के दौरान शतक लगाए थे.रहाणे ने अफगानिस्तान की टीम की भी प्रशंसा की . उन्होंने कहा , ‘‘ लेकिन अफगानिस्तान को श्रेय देना चाहिए , जो शानदार थे. इसके बाद से वे आगे ही बढ़ेंगे. उनके तेज गेंदबाजों ने सचमुच अच्छी गेंदबाजी की , विशेषकर कल तीसरे सत्र में और मुझे पूरा भरोसा है कि वे सभी प्रतिद्वंद्वी टीमों के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करेंगे.’’

रहाणे ने नियमित कप्तान विराट कोहली की अनुपस्थिति में कप्तानी की. उन्होंने कहा , ‘‘ यह सचमुच काफी विशेष लग रहा है. अपने देश का नेतृत्व करना हमेशा ही सम्मान की बात होती है और हम इसमें आक्रामक होना चाहते थे.’’उन्होंने कहा, ‘‘ खिलाड़ी जैसे शिखर धवन और मुरली विजय ने शतक बनाये , लोकेश राहुल और हार्दिक पंड्या ने उपयोगी योगदान दिया. हम सभी के लिये अपनी बेसिक्स पर डटे रहना अहम था 

You May Also Like

English News