जीत के बाद विराट ने दिया बड़ा बयान, कहा- रिस्ट स्पिनर्स क्यों होते हैं खास..

टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में 4-1 से जीत दर्ज करने के बाद टी-20 सीरीज में भी विजयी शुरुआत की है। रांची में खेले गए तीन मैचों की सीराज के पहले मैच में टीम इंडिया ने वर्षा से बाधित मैच में कंगारुओं के 9 विकेट से मात देकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने उतरी टीम इंडिया के गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को पिच पर टिकने नहीं दिया और 18.4 ओवर में 8 विकेट पर केवल 118 रन बनाने दिए। इसके बाद बारिश ने मैच में बाधा डाली। जब मैच दोबारा शुरु हुआ तो टीम इंडिया को जीत के लिए 6 ओवर में 48 रन बनाने के लक्ष्य मिला जिसे विराट सेना ने 3 गेंदें शेष रहते हासिल कर लिया। जीत के बाद विराट ने दिया बड़ा बयान, कहा- रिस्ट स्पिनर्स क्यों होते हैं खास..

टी-20 में टीम इंडिया के इस गेदबाज का नया धमाका, ‘नेहरा जी’ को दी मात

जीत के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा, टॉस जीतकर गेंदबाजी करने करना सफल रहा। गेंदबाज एक बार फिर कसौटी पर खरे उतरे। लेकिन डकवर्थ लुईस मैथड हमें समझ में नहीं आया। उन्हें 118 रन पर रोकने के बाद हमें लगा कि हमें लगा कि जीत के लिए 40 रन के आसपास का लक्ष्य मिलेगा लेकिन ये 48 कैसे हो गया मेरी समझ में नहीं आया। इस तरह के छोटे लक्ष्य वाले मैच ट्रिकी हो जाते हैं। 

ये जीत सभी के साझा प्रयास की जीत है लेकिन टीम प्रबंधन के लोगों ने भी अच्छे आईडिया दिए हैं। हर फॉर्मेट के लिए स्पेशलिस्ट प्लेयर्स का चयन किया है। चहल और कुलदीप के शानदार प्रदर्शन की तारीफ करते हुए विराट ने कहा, यदि आप कलाई से गेंदबाजी करने वाले खिलाड़ियों को विश्वास दें तो वो आपको लगातार जीत दिला सकते हैं, हो सकता है कि किसी एक मैच में वो आपके लिए महंगे साबित हो जाएं लेकिन अगले चार-पांच मैच वो आपको जिता सकते हैं। उनकी स्किल का मैच में बहुत योगदान होता है। उनकी मिस्ट्री गेंदें आपको मैच में कभी भी विकेट दिला सकती हैं।

भुवी और बुमराह की गेंदबाजी पर विराट ने टिप्पणी करते हुए कहा, आपको सटीक यॉर्कर और स्लोअर गेंदें फेंकने के लिए स्किल चाहिए लेकिन इसके साथ ही अच्छा दिमाग भी चाहिए। ताकि बल्लेबाज गलतियां करे और गलत जगह शॉट खेले। शिखर धवन की आराम के बाद टीम में वापसी पर विराट ने कहा, टीम में वापसी करके धवन खुश हैं। आज की 15 रन की पारी उनके लिए बेहद महत्वपूर्ण थी। उन्होंने एक बार फिर टीम को अच्छी शुरुआत दी।  

एक महीने लंबे ब्रेक के बाद वापसी करना अच्छा रहा: शिखर धवन

टीम इंडिया को 9 विकेट से जीत दिलाने वाले ओपनर शिखर धवन ने कहा, ये एक छोटा लक्ष्य था बावजूद इसके बहुत दबाव था। एक महीने लंबे ब्रेक के बाद वापसी करना अच्छा रहा। मेरे लिए ये एक अच्छी शुरुआत है। इस पारी से मेरा आने वाले मैचों के लिए आत्मविश्वास बढ़ा है। शिखर ने अपनी इस छोटी सी पारी में 12 गेंद में 15 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 3 चौके भी जड़े। 

हमें मध्यक्रम के बिखरने पर ध्यान देना होगा: डेविड वार्नर

हार के बाद ऑस्ट्रेलियाई कप्तान डेवि़ड वार्नर ने कहा, ये हमारे लिए खराब रिजल्ट है। हम अगले मैचों में बेहतर प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे। इस मैच में तो हम तकरीबन 120 रन पर ऑल आउट हो ही गए थे। हमारे गेंदबाजों ने कुछ ठीक खेल दिखाया। हमने इस मैच में जीतने लायक प्रदर्शन ही नहीं किया। हमारी शुरुआत अच्छी हो रही है। मैंने और फिंच ने मिलकर रन बनाए हैं।पिछले 12 महीने में ये ट्रेंड बन गया है कि हमारा मध्यक्रम बिखर जाता है। हमें इस बात पर ध्यान देना होगा कि इसमें सुधार कैसे लाया जा सकता है कि टीम का मध्यक्रम न बिखरे। 

हमेशा विकेट हासिल करने की फिराक मे रहता हूं: कुलदीप

कंगारुओं को एक बार फिर अपनी फिरकी में फंसाकर मैन ऑफ द मैच बने कुलदीप यादव ने कहा, ये मेरा टी-20 में पहला मैन ऑफ द मैच पुरस्कार है। हेनरीकेज को आउट करने के बारे में कुलदीप ने बताया कि मैंने उन्हें पिच पर चहल कदमी करते देखा। इसके बाद मैंने उन्हें स्वीप शॉट ऑजमाने के लिए बाध्य किया। मुझे यह मालूम था कि वो मिड ऑफ पर शॉट नहीं खेलेंगे। इसलिए मैंने उनके लिए ओवरपिच बॉल फेंकी। मैं हमेशा विकेट हासिल करने की फिराक में रहता हूं और यही मेरे और टीम के लिए महत्वपूर्ण है। दिन ब दिन आत्मविश्वास हासिल करना मेरा लक्ष्य है। 

You May Also Like

English News