जेके बैंक में लूट के चलते 40 शाखाओं से लेन-देन बंद हो गया

दक्षिणी कश्मीर में बैंक लूट की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर शोपियां तथा पुलवामा जिले में जेके बैंक की 40 शाखाओं से तत्काल प्रभाव से लेन-देन पर रोक लगा दी गई है। इस संबंध में राज्य सरकार की ओर से बैंक को एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि ये 40 शाखाएं अति संवेदनशील हैं। इन शाखाओं से नकदी के रूप में किसी प्रकार का कारोबार न किया जाए।
जेके बैंक के कश्मीर के पीआरओ सज्जाद बजाज का कहना है कि कुछ शाखाओं से लेन-देन पर रोक है। इन बैंकों के उपभोक्ता अन्य दूसरी सुरक्षित शाखाओं से लेन-देन कर सकते हैं। सूत्रों का कहना है कि अति संवेदनशील के रूप में चिह्नित बैंक शाखाओं में शोपियां जिले के पिंजूरा, कैगाम, ट्रेंज, इमाम साहब व कारपिन तथा पुलवामा जिले के लिटर, तहाब, अच्छन, कोइल एवं द्राबगाम शामिल हैं।

इन बैंक शाखाओं को किसी अन्यत्र जगह शिफ्ट नहीं किया गया है, लेकिन उपभोक्ता न तो इन शाखाओं में नकद जमा कर सकता है और न ही निकाल सकता है। इस प्रकार से इन बैंक शाखाओं से उपभोक्ता केवल चेक के माध्यम से नकद जमा कर सकेगा या फिर आनलाइन नकदी ट्रांसफर कर सकेगा। हालांकि, बैंक के अधिकारी ने कुछ एटीएम को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट किए जाने की खबरों को नकारा है।

दक्षिणी कश्मीर में इस साल बैंक लूट की छह घटनाएं हुई हैं। शोपियां के तुर्कवानगाम में 15 फरवरी को तीन लाख, 18 अप्रैल को हरमैन शाखा से 12 लाख रुपये लूटे गए।
दो मई को यारीपोरा कुलगाम में इलाकाई देहाती बैंक से 65 हजार, तीन मई को पुलवामा के वागिबुग स्थित इलाकाई बैंक व नेहामा स्थित जेके  बैंक से लगभग सात लाख रुपये लूट लिए। अनंतनाग जिले के मोमिनाबाद इलाके से जेके बैंक का एटीएम चुरा लिया गया जिसमें 14.56 लाख रुपये थे। 
 

You May Also Like

English News