जेल में बंद क़ैदी ने दी सीएम अमरिंदर को धमकी

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को  फरीदकोट सेंट्रल जेल में हत्या के आरोप में कैद एक आरोपी ने फेसबुक से लाइव धमकी दी है. गोबिंद सिंह नाम के इस क़ैदी ने फेसबुक पर लाइव रहते हुए अमरिंदर सिंह को धमकी देते हुए कहा है कि “तुम्हारी उलटी गिनती शुरू हो गई है और अकाल पुरख (ईश्वर) ने इसकी जिम्मेदारी मुझे दी है.” लेकिन यहाँ सवाल ये उठता है कि जेल में बंद एक क़ैदी के पास मोबाइल कहाँ से आया ? इस सवाल पर पुलिस का कहना है कि गोबिंद ने धमकी देने के लिए किसी अन्य का मोबाइल फ़ोन इस्तेमाल किया होगा.पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को  फरीदकोट सेंट्रल जेल में हत्या के आरोप में कैद एक आरोपी ने फेसबुक से लाइव धमकी दी है. गोबिंद सिंह नाम के इस क़ैदी ने फेसबुक पर लाइव रहते हुए अमरिंदर सिंह को धमकी देते हुए कहा है कि "तुम्हारी उलटी गिनती शुरू हो गई है और अकाल पुरख (ईश्वर) ने इसकी जिम्मेदारी मुझे दी है." लेकिन यहाँ सवाल ये उठता है कि जेल में बंद एक क़ैदी के पास मोबाइल कहाँ से आया ? इस सवाल पर पुलिस का कहना है कि गोबिंद ने धमकी देने के लिए किसी अन्य का मोबाइल फ़ोन इस्तेमाल किया होगा.    आपको बता दें कि सीएम अमरिंदर ने भटिंडा रैली में जनता को संबोधित करते हुए कहा था कि वो विधानसभा चुनावों से पहले पंजाब को नशामुक्त कर देंगे. क़ैदी गोबिंद सिंह ने सीएम के इसी बयान को लेकर उन्हें धमकाते हुए कहा है कि, "आपको दरबार साहिब में जाकर अपने झूठे वादे के लिए माफी मांगनी चाहिए. पंजाब में ड्रग और नशे का गोरखधंधा तेजी से फैल रहा है और पंजाब में ड्रग आसानी से कहीं भी मिल जाती है. मेरे भाई-बहन इस नशाखोरी का शिकार हो रहे हैं."    गोबिंद ने यह भी कहा कि उसके पास सीएम या डीजीपी का नंबर नहीं है, नहीं तो वो सीधा सीएम को फ़ोन कर लेता, लेकिन अपनी बात सीएम तक पहुँचाने के लिए उसे मजबूरन फेसबुक का सहारा लेना पड़ा है. फरीदकोट पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उन्होंने जिस मोबाइल से धमकी दी गई थी,  वो सैमसंग मोबाइल फोन बरामद कर लिया है, जिससे ये वीडियो अपलोड किया गया था. साथ ही गोबिंद और दूसरे कैदी जिसका मोबाइल इस्तेमाल किया गया, दोनों के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज कर दी गई है.

आपको बता दें कि सीएम अमरिंदर ने भटिंडा रैली में जनता को संबोधित करते हुए कहा था कि वो विधानसभा चुनावों से पहले पंजाब को नशामुक्त कर देंगे. क़ैदी गोबिंद सिंह ने सीएम के इसी बयान को लेकर उन्हें धमकाते हुए कहा है कि, “आपको दरबार साहिब में जाकर अपने झूठे वादे के लिए माफी मांगनी चाहिए. पंजाब में ड्रग और नशे का गोरखधंधा तेजी से फैल रहा है और पंजाब में ड्रग आसानी से कहीं भी मिल जाती है. मेरे भाई-बहन इस नशाखोरी का शिकार हो रहे हैं.”

गोबिंद ने यह भी कहा कि उसके पास सीएम या डीजीपी का नंबर नहीं है, नहीं तो वो सीधा सीएम को फ़ोन कर लेता, लेकिन अपनी बात सीएम तक पहुँचाने के लिए उसे मजबूरन फेसबुक का सहारा लेना पड़ा है. फरीदकोट पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उन्होंने जिस मोबाइल से धमकी दी गई थी,  वो सैमसंग मोबाइल फोन बरामद कर लिया है, जिससे ये वीडियो अपलोड किया गया था. साथ ही गोबिंद और दूसरे कैदी जिसका मोबाइल इस्तेमाल किया गया, दोनों के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज कर दी गई है.

You May Also Like

English News