जेवर गैंगरेप: महिला पीड़ितों ने की आत्महत्या की कोशिश, पुलिस पर लगाए आरोप..

जेवर इलाके में परिवार से लूट, हत्या और गैंगरेप पीड़ित तीनों महिलाओं ने आत्महत्या की कोशिश की है. उनमें से एक महिला ने पंखे से लटक कर जान देनी की कोशिश की. घर के अंदर पंखे से लटकते वक्त परिजनों की नजर पड़ जाने से महिला की जान बच गई. समय रहते पता चल जाने की वजह से परिजनों ने पीड़िता को बचा लिया. आपको बता दें कि पीड़ित परिवार आरोपियों की गिरफ्तारी की लंबे समय से मांग कर रहा है. पीड़ित परिवार ने पुलिस कार्यशैली पर भी सवाल उठाए हैं.जेवर गैंगरेप: महिला पीड़ितों ने की आत्महत्या की कोशिश, पुलिस पर लगाए आरोप..बस-ट्रक में टक्कर के बाद लगी भीषण आग, जिससे 22 यात्री की हुई मौत, और 17 बुरी तरह से है जख्मी
प्राप्त जानकारी के अनुसार जेवर कांड में रेप पीड़िता कार चालक की पत्नी ने रविवार की दोपहर गले में फंदा लगा कर आत्महत्या का प्रयास किया. उसी वक्त परिवार की एक युवती ने महिला को फंदा लगा पंखे से लटकने का प्रयास करते देख लिया और शोर मचा दिया. शोर की आवाज सुन परिवार के लोग भाग कर कमरे में पहुंचे और दरवाजा खोल महिला को नीचे उतारा. सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची. परिवार के लोगों ने महिला को समझाने का काफी प्रयास किया.

आपको बताते चलें कि चालक का परिवार बेहद गरीब है. वहीं महिला इंसाफ न मिलने, बदमाशों के न पकड़े जाने से काफी परेशान है. बता दें कि 24 मई की रात एक कार सवार स्क्रेप व्यापारी के परिवार को जेवर-बुलंदशहर स्टेट हाईवे पर बदमाशों ने बंधक बना लिया था. जिसके बाद उनके साथ लूटपाट, गैंगरेप को अंजाम देने के साथ एक व्यापारी की हत्या कर दी थी. घटना के बाद से ही पुलिस लगातार अपराधियों की धर-पकड़ के लिए प्रयास कर रही है.

10 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ अभी तक कोई पुख्ता सबूत तक नहीं लग पाया है. जबकि शुरुआत में पुलिस ने 24 घंटे के अंदर अपराधियों को पकड़ने का आश्वासन दिया था. पीड़िता का कहना है कि पुलिस कोई कार्यवाही नहीं कर रही है, अपराधी अभी भी खुलेआम घूम रहे हैं तो हमें जीना का क्या फायदा.

You May Also Like

English News