जॉर्ज बुश की माता बारबरा बुश का निधन

 अमेरिका की पूर्व प्रथम महिला और साक्षरता प्रचारक बारबरा बुश का मंगलवार को 92 साल की उम्र में निधन हो गया, वह एक राजनैतिक वंश के मातृप्रधान व्यक्ति थीं , जिसमें दो राष्ट्रपतियों शामिल थे- उनके पति जॉर्ज एचडब्ल्यू बुश और बेटा जॉर्ज डब्ल्यू बुश. 1989 से 1993 तक अमेरिका की प्रथम महिला रही बारबरा बुश लम्बे समय से अस्वस्थ चल रही थीं. न्यू यॉर्क:  अमेरिका की पूर्व प्रथम महिला और साक्षरता प्रचारक बारबरा बुश का मंगलवार को 92 साल की उम्र में निधन हो गया, वह एक राजनैतिक वंश के मातृप्रधान व्यक्ति थीं , जिसमें दो राष्ट्रपतियों शामिल थे- उनके पति जॉर्ज एचडब्ल्यू बुश और बेटा जॉर्ज डब्ल्यू बुश. 1989 से 1993 तक अमेरिका की प्रथम महिला रही बारबरा बुश लम्बे समय से अस्वस्थ चल रही थीं.   जिसके बाद उन्होंने तंग आकर इलाज लेने से भी इंकार कर दिया था और अकेले में समय व्यतीत करने लग गई थीं, . बताया जा रहा है कि वे क्रोनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पलमोनरी पोग और कॉन्जेस्टिव हार्ट की बिमारी से जूझ रही थीं. उनके अंतिम क्षणों में उनका पूरा परिवार उनके साथ था, उनके बेटे जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने उन्हें याद करते हुए कहा बारबरा बुश एक शानदार फर्स्ट लेडी और एक औरत थी, जो किसी भी अन्य के विपरीत थी जो लाखों लोगों को  प्यार और साक्षरता प्रदान करती थी."  उनके दूसरे बेटे जेब बुश ने कहा कि "हम आज जो कुछ भी हैं वो उनके द्वारा दिए गए संस्कारों की वजह से हैं, वे खुद भी सबसे प्यार करती थीं और हमे भी यही सिखाती थीं. जेब ने कहा कि वे एक खुशमिज़ाज़ और ताक़तवर महिला थीं, अंतिम समय में मौत से जूझते हुए भी वे हमे हंसाती रहती थीं, हम खुशकिस्मत हैं कि हम उनकी परवरिश में बड़े हुए."  उनके परिवार ने बताया है कि बारबरा बुश का अंतिम संस्कार 20 अप्रैल को ह्यूस्टन के सेंट मार्टिन चर्च में किया जाएगा.

जिसके बाद उन्होंने तंग आकर इलाज लेने से भी इंकार कर दिया था और अकेले में समय व्यतीत करने लग गई थीं, . बताया जा रहा है कि वे क्रोनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पलमोनरी पोग और कॉन्जेस्टिव हार्ट की बिमारी से जूझ रही थीं. उनके अंतिम क्षणों में उनका पूरा परिवार उनके साथ था, उनके बेटे जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने उन्हें याद करते हुए कहा बारबरा बुश एक शानदार फर्स्ट लेडी और एक औरत थी, जो किसी भी अन्य के विपरीत थी जो लाखों लोगों को  प्यार और साक्षरता प्रदान करती थी.”

उनके दूसरे बेटे जेब बुश ने कहा कि “हम आज जो कुछ भी हैं वो उनके द्वारा दिए गए संस्कारों की वजह से हैं, वे खुद भी सबसे प्यार करती थीं और हमे भी यही सिखाती थीं. जेब ने कहा कि वे एक खुशमिज़ाज़ और ताक़तवर महिला थीं, अंतिम समय में मौत से जूझते हुए भी वे हमे हंसाती रहती थीं, हम खुशकिस्मत हैं कि हम उनकी परवरिश में बड़े हुए.”  उनके परिवार ने बताया है कि बारबरा बुश का अंतिम संस्कार 20 अप्रैल को ह्यूस्टन के सेंट मार्टिन चर्च में किया जाएगा.

You May Also Like

English News