जो लोग जलते हैं, वो जल्द धोनी के इंटरनेशनल करियर को खत्म होते देखना चाहते हैं: कोच रवि शास्त्री

टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री का मानना है कि अनुभवी क्रिकेटर एमएस धोनी टीम के अहम सदस्य हैं, और कुछ ‘इर्ष्या’ करने वाले लोग चाहते हैं कि उनके खराब दिन आए, क्योंकि वो उनके इंटरनेशनल करियर को खत्म होते देखना चाहते हैं।जो लोग जलते हैं, वो जल्द धोनी के इंटरनेशनल करियर को खत्म होते देखना चाहते हैं: कोच रवि शास्त्री

…तो इस वजह से धोनी कोलकाता टेस्ट से पहले ईडन की पिच देखने पहुंचे

शास्त्री ने आनंदबाजार पत्रिका को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘ऐसा लगता है कि आसपास कई जलने वाले (इर्ष्यालू) लोग हैं, जो चाहते हैं कि धोनी के कुछ खराब दिन हो। कुछ लोग हैं जो एमएस धोनी के करियर के खत्म होने का इंतजार कर रहे हैं।’

 

शास्त्री ने कहा कि भारतीय टीम को धोनी की अहमियत पता है और विकेटकीपर बल्लेबाज की आलोचना से उन पर या टीम पर कोई असर नहीं पड़ रहा है। टीम इंडिया के कोच ने कहा, ‘आलोचना से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। हमारे दिमाग में सेट है कि धोनी टीम में किस जगह खड़े हैं। वो टीम के महत्वपूर्ण सदस्य हैं। वो बेहतरीन कप्तान रहे और अब टीम के महत्वपूर्ण सदस्य हैं।’
 

इस दौरान शास्त्री ने उन पूर्व क्रिकेटरों और विशेषज्ञों पर भी चुटकी ली, जिन्होंने धोनी की आलोचना की और उन्हें टी20 टीम से बाहर करने की सलाह दी। उन्होंने कहा, ‘ज्यादा समय नहीं हुआ है। जब मैं टीवी शो करता था तो लोग इस तरह के सवाल करते थे। आपको शो चलाने के लिए ऐसे सवालों के जवाब देना पड़ते हैं।
 

बकौल शास्त्री, ‘धोनी सुपरस्टार हैं। वो हमारे महान क्रिकेटरों में से एक हैं। इसलिए हमेशा उनके बारे में बात होती है। वो हमेशा विषय बनता है क्योंकि वो लीजेंड हैं। जब आपको करियर भी इतना शानदार होगा तो आप भी टीवी के विषय बन जाएंगे।’
 

55 वर्षीय शास्त्री ने ध्यान दिलाया कि टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके धोनी का पिछले एक साल में वन-डे में 65 से अधिक की औसत रही है। उन्होंने श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया को जीत दिलाई है।

You May Also Like

English News