टाटा ग्रुप के 150 साल के इतिहास में पहली बार होगा ऐसा, कर्मचारियों की होगी बल्ले-बल्ले

टाटा मोटर्स अपने 150 साल के इतिहास में पहली बार अपने कर्मचारियों के लिए एक खास योजना लेकर आई है. इस योजना के तहत कंपनी अपने 200 कर्मचारियों को इम्प्लॉई स्‍टॉक ऑप्‍शन (ईएसओपी) का फायदा देगीटाटा मोटर्स अपने 150 साल के इतिहास में पहली बार अपने कर्मचारियों के लिए एक खास योजना लेकर आई है. इस योजना के तहत कंपनी अपने 200 कर्मचारियों को इम्प्लॉई स्‍टॉक ऑप्‍शन (ईएसओपी) का फायदा देगी.   लगभग 100 अरब डॉलर वाले टाटा  ग्रुप के इतिहास में यह पहली बार होगा. इसके साथ ही भारतीय ऑटो इंडस्‍ट्री में इस तरह की शुरुआत करने वाली टाटा मोटर्स पहली कंपनी होगी. कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि स्‍टॉक ऑप्‍शन की पात्रता घरेलू बाजार में तीन मापदंडों पर निर्भर होगी- बाजार हिस्‍सेदारी, एबिट मार्जिन में सुधार और राजस्‍व में मुक्‍त नकदी का प्रतिशत.   वर्तमान वित्‍त वर्ष की दूसरी तिमाही से चुने गए कर्मचारियों को स्‍टॉक ऑप्‍शन का लाभ मिलेगा. यह ऑप्‍शन कर्मचारियों को वित्‍त वर्ष  2021 से वित्‍त वर्ष 2023 के बीच तीन भाग में मिलेगा. इसकी जानकारी ग्रुप के चीफ फाइनेंश‍ियल ऑफ‍िसर (सीएफओ) पीबी बालाजी ने चौथी तिमाही के नतीजों के लिए बुलाई गई बैठक में दी.   इस प्‍लान को शेयरधारकों की मंजूरी के लिए कंपनी की आगामी वार्षिक सभा में पेश किया जाएगा. कंसल्‍टेंसी फर्म अवेंटम एडवाइजर्स के एमडी वीजी रामाकृष्‍णन ने कहा कि यह एक बहुत अच्‍छा कदम है और यह इस बात को बताता है कि टॉप मैनेजमेंट कंपनी  के प्रदर्शन के लिए जिम्‍मेदारी लेने का इच्‍छुक है.   टाटा मोटर्स ने बताया कि कंपनी भविष्‍य में अपने टॉप टैलेंट में बहुत अधिक निवेश करेगी. इसके माध्यम से कंपनी अपने कर्मचारियों को लीडरशिप डेवलपमेंट, प्रोग्रेशन और प्रमोशन के अवसर उपलब्‍ध कराएगी ताकि कर्मचारियों के लिए एक सही करियर सुनिश्चित हो सके. टाटा मोटर्स के बोर्ड ने कर्मचारियों के लिए इंक्रीमेंट्स और बोनस को अपनी मंजूरी दे दी है. टाटा मोटर्स अपने 150 साल के इतिहास में पहली बार अपने कर्मचारियों के लिए एक खास योजना लेकर आई है. इस योजना के तहत कंपनी अपने 200 कर्मचारियों को इम्प्लॉई स्‍टॉक ऑप्‍शन (ईएसओपी) का फायदा देगी.   लगभग 100 अरब डॉलर वाले टाटा  ग्रुप के इतिहास में यह पहली बार होगा. इसके साथ ही भारतीय ऑटो इंडस्‍ट्री में इस तरह की शुरुआत करने वाली टाटा मोटर्स पहली कंपनी होगी. कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि स्‍टॉक ऑप्‍शन की पात्रता घरेलू बाजार में तीन मापदंडों पर निर्भर होगी- बाजार हिस्‍सेदारी, एबिट मार्जिन में सुधार और राजस्‍व में मुक्‍त नकदी का प्रतिशत.   वर्तमान वित्‍त वर्ष की दूसरी तिमाही से चुने गए कर्मचारियों को स्‍टॉक ऑप्‍शन का लाभ मिलेगा. यह ऑप्‍शन कर्मचारियों को वित्‍त वर्ष  2021 से वित्‍त वर्ष 2023 के बीच तीन भाग में मिलेगा. इसकी जानकारी ग्रुप के चीफ फाइनेंश‍ियल ऑफ‍िसर (सीएफओ) पीबी बालाजी ने चौथी तिमाही के नतीजों के लिए बुलाई गई बैठक में दी.   इस प्‍लान को शेयरधारकों की मंजूरी के लिए कंपनी की आगामी वार्षिक सभा में पेश किया जाएगा. कंसल्‍टेंसी फर्म अवेंटम एडवाइजर्स के एमडी वीजी रामाकृष्‍णन ने कहा कि यह एक बहुत अच्‍छा कदम है और यह इस बात को बताता है कि टॉप मैनेजमेंट कंपनी  के प्रदर्शन के लिए जिम्‍मेदारी लेने का इच्‍छुक है.   टाटा मोटर्स ने बताया कि कंपनी भविष्‍य में अपने टॉप टैलेंट में बहुत अधिक निवेश करेगी. इसके माध्यम से कंपनी अपने कर्मचारियों को लीडरशिप डेवलपमेंट, प्रोग्रेशन और प्रमोशन के अवसर उपलब्‍ध कराएगी ताकि कर्मचारियों के लिए एक सही करियर सुनिश्चित हो सके. टाटा मोटर्स के बोर्ड ने कर्मचारियों के लिए इंक्रीमेंट्स और बोनस को अपनी मंजूरी दे दी है.

लगभग 100 अरब डॉलर वाले टाटा  ग्रुप के इतिहास में यह पहली बार होगा. इसके साथ ही भारतीय ऑटो इंडस्‍ट्री में इस तरह की शुरुआत करने वाली टाटा मोटर्स पहली कंपनी होगी. कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि स्‍टॉक ऑप्‍शन की पात्रता घरेलू बाजार में तीन मापदंडों पर निर्भर होगी- बाजार हिस्‍सेदारी, एबिट मार्जिन में सुधार और राजस्‍व में मुक्‍त नकदी का प्रतिशत. 

वर्तमान वित्‍त वर्ष की दूसरी तिमाही से चुने गए कर्मचारियों को स्‍टॉक ऑप्‍शन का लाभ मिलेगा. यह ऑप्‍शन कर्मचारियों को वित्‍त वर्ष  2021 से वित्‍त वर्ष 2023 के बीच तीन भाग में मिलेगा. इसकी जानकारी ग्रुप के चीफ फाइनेंश‍ियल ऑफ‍िसर (सीएफओ) पीबी बालाजी ने चौथी तिमाही के नतीजों के लिए बुलाई गई बैठक में दी. 

इस प्‍लान को शेयरधारकों की मंजूरी के लिए कंपनी की आगामी वार्षिक सभा में पेश किया जाएगा. कंसल्‍टेंसी फर्म अवेंटम एडवाइजर्स के एमडी वीजी रामाकृष्‍णन ने कहा कि यह एक बहुत अच्‍छा कदम है और यह इस बात को बताता है कि टॉप मैनेजमेंट कंपनी  के प्रदर्शन के लिए जिम्‍मेदारी लेने का इच्‍छुक है. 

टाटा मोटर्स ने बताया कि कंपनी भविष्‍य में अपने टॉप टैलेंट में बहुत अधिक निवेश करेगी. इसके माध्यम से कंपनी अपने कर्मचारियों को लीडरशिप डेवलपमेंट, प्रोग्रेशन और प्रमोशन के अवसर उपलब्‍ध कराएगी ताकि कर्मचारियों के लिए एक सही करियर सुनिश्चित हो सके. टाटा मोटर्स के बोर्ड ने कर्मचारियों के लिए इंक्रीमेंट्स और बोनस को अपनी मंजूरी दे दी है. 

You May Also Like

English News