टीम इंडिया की हार पड़ी बहुत महंगी, वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने से चूकी ‘विराट सेना’

टीम इंडिया को दक्षिण अफ्रीका के हाथों सेंचुरियन टेस्ट में शिकस्त का सामना करना भारी पड़ गया। प्रोटियाज टीम ने बुधवार को टीम इंडिया को दूसरी पारी में 151 रन पर ऑलआउट करके दूसरा टेस्ट 135 रन से अपने नाम किया। इसी के साथ दक्षिण अफ्रीका ने तीन मैचों की सीरीज 2-0 से अपने नाम की। याद हो कि केपटाउन में खेला गया पहला टेस्ट दक्षिण अफ्रीका ने 72 रन से जीता था।

इस हार का भारी नुकसान टीम इंडिया को झेलना पड़ा क्योंकि वह वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने से चूक गई। विराट कोहली के नेतृत्व वाली टीम इंडिया के पास लगातार 10 टेस्ट सीरीज जीतने का सुनहरा मौका था, जिसे वह गंवा बैठी।

टीम इंडिया को कोहली की कप्तानी में भी पहली बार टेस्ट सीरीज में शिकस्त का सामना करना पड़ा। इससे पहले 2015 से 2017 के बीच विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया ने लगातार 9 टेस्ट सीरीज जीती थी। टीम इंडिया ने इस मामले में ऑस्ट्रेलिया की बराबरी की थी, जिसने 2005/06 से 2008 के बीच 9 टेस्ट सीरीज जीती थी।

इंग्लैंड ने 1884 से 1892 के बीच लगातार 8 टेस्ट सीरीज जीती थी। ऑस्ट्रेलिया ने 1945-51 के बीच 7 टेस्ट सीरीज जीती। फिर वेस्टइंडीज ने 1982-85 के बीच लगातार 7 टेस्ट सीरीज जीती।

टीम इंडिया का विजयी अभियान ऐसा रहा:

2015: श्रीलंका को 2-1 से हराया, 3 मैचों की सीरीज

2015-16: दक्षिण अफ्रीका को 3-0 से दी मात, 4 मैचों की सीरीज

2016: वेस्टइंडीज को 2-0 से धोया, 4 मैचों की सीरीज

2016-17: न्यूजीलैंड को 3-0 से हराया, 3 मैचों की सीरीज

2016-17: इंग्लैंड को 4-0 से हराया, 5 मैचों की सीरीज

2016-17: बांग्लादेश को 1-0 से हराया, 1 मैच की सीरीज

2016-17: ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराया, 4 मैचों की सीरीज

2017: श्रीलंका को 3-0 से हराया, 3 मैचों की सीरीज

2017-18 : श्रीलंका को 1-0 से हराया, 3 मैचों की सीरीज

2018 : दक्षिण अफ्रीका से (0-2) मिली हार, 3 मैचों की सीरीज (1 मैच बाकी)

 
 

You May Also Like

English News