टीम इंडिया से बाहर चल रहे इन गेंदबाजों के खिलाफ विराट ने दिया ये बड़ा बयान…

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने मुम्बई के वानखेडे़ स्टेडियम में खेले जाने वाले फर्स्ट वन-डे मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस की। कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने टीम इंडिया से बाहर चल रहे रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन के बारे में खुलकर बात की। आइये जानते हैं कि उन्होंने क्या कहाः- टीम इंडिया से बाहर चल रहे इन गेंदबाजों के खिलाफ विराट ने दिया ये बड़ा बयान...FIFA U-17 World Cup: माली ने घाना को 2-1 हराकर सेमीफाइनल में किया प्रवेश

कप्तान विराट नें प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन दोनों ही बेहतरीन गेंदबाज हैं और हमने उन दोनों को इसलिए आराम दिया है, जिससे की टीम इंडिया को 2019 वर्ल्ड कप से पहले इन दोनों गेंदबाजों के विकल्प मिल सके। इसलिए हम फिलहाल नई प्रतिभाओं को मौका दे रहे हैं। आगे उन्होंने कहा कि आप सभी ने देखा होगा कि पिछले मैचों में यजुवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है।’

उन्होंने कहा, ‘हमें वर्ल्ड कप से पहले अपना सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज को तरासना होगा। ईमानदारी से कहूं तो हम इन दोनों को साथ में खिलाने की नहीं सोच रहे थे। मगर वे दोनों बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और इसलिए हर मैच में खेल रहे हैं।’  कोहली ने कहा, ‘रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा पिछले 6-7 साल से लगातार सीमित ओवरों की क्रिकेट खेल रहे हैं। इन युवाओं ने पिछले मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया और इसलिए उन्हें मौका दिया जा रहा है। 
विराट ने कहा कि टीम इंडिया को अगले साल दो प्रमुख विदेशी दौरों पर जाना है और इससे पहले वह कुछ प्रमुख बल्लेबाजों को रेस्ट देंगे। बता दें कि न्यूजीलैंड और श्रीलंका के खिलाफ घरेलू सीरीज खेलने के बाद टीम इंडिया अगले साल जनवरी 2018 में दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर जाएगी, जहां वह 3 टेस्ट, 6 वनडे और 3 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेलेगी। दक्षिण अफ्रीकी दौरे के बाद टीम इंडिया इंग्लैंड जाएगी, जहां उसे 3 टी-20, 3 वन-डे और 5 टेस्ट मैच खेलनी हैं। यह सीरीज जुलाई 2018 में शुरू होगी। 
 

कप्तान विराट ने कहा,  फिलहाल इसलिए हमने रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, उमेश यादव और मोहम्मद शामी को आराम दिया हुआ है। क्योंकि टीम इंडिया के यही मजबूत स्तंभ है और इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाले टेस्ट सीरीज के लिए हमारी टीम के यही प्रमुख अस्त्र होंगे।

You May Also Like

English News