टेस्ट और वनडे के बाद टी-20 सीरीज जीतने उतरेंगे ये 11 खिलाड़ी

भारत ने इंग्लैंड को टेस्ट और वनडे सीरीज में करारी मात दी। 4-0 से टेस्ट सीरीज अपने नाम करने के बाद भारत ने अंग्रेजों को वनडे में भी 2-1 धूल चटाई। इसके बाद बुधवार को इंग्लैंड इस दौरे पर अंतिम बार टी-20 मैच में टीम इंडिया के खिलाफ उतरेगी। 1-1 की बराबरी पर पहुंची टी-20 सीरीज का निर्णायक मैच बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा।

टेस्ट और वनडे के बाद टी-20 सीरीज जीतने उतरेंगे ये 11 खिलाड़ी

 विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया चाहेगी की वो आखिरी वनडे जीत कर इंग्लैंड को तीनों फॉर्मेट की सीरीज में मात दे। बेगलुरु के इस मैदान में आज सभी की निगाहें कप्तान विराट कोहली पर होंगी, जो आईपीएल में बेंगलुरु की ओर से ही खेलते हैं। यह टी-20 मैच चैंपियंस ट्रॉफी से पहले खेला जाने वाले आखिरी वनडे है। आइए जानते किस खिलाड़ी को मिलेगी अंतिग एकादश में जगह:

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत का पलड़ा भारी, लेकिन कंगारूओं को आंकना गलती होगी

 सलामी जोड़ी
संभवत: इस मैदान पर एक बार फिर लोकेश राहुल और कप्तान विराट कोहली को पारी की शुरुआत करते हुए देखा जा सकता है। दोनों की जोड़ी आईपीएल 2016 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के लिए पारी का आगाज करते हुए काफी रन बनाए थे।
 मध्यक्रम
टीम इंडिया के लिए नंबर 3, 4 और 5 पांच पर दिग्गजों की त्रिमूर्ति नजर आ सकती है। सुरेश रैना, युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी की तिकड़ी नजर आएगी। तीनों के यह बहुत जरूरी है को वो टीम के लिए मैच जिताउ पारी खेलें और टीम को बड़े स्कोर की ओर लेकर जाए। इस सीरीज में बीच के ओवरों में रन बेहद धीमी रफ्तार से बने हैं।
 ऑलराउंडर/ फिनीशर
हार्दिक पांड्या के साथ फिनीशर के रोल में ऋषभ पंत को मौका दिया जा सकता है। पंत के लिए यह बहुत बड़ा मौका साबित हो सकता है। हांलिक कप्तान कोहली मनीष पांडे पर भी एक बार फिर भरोसा जता सकते हैं। इसके अलावा पांड्या के साथ युवराज और सुरेश रैना ऑलराउंडर की भूमिका निभाते नजर आएंगे।
 स्पिनर
यजुवेंद्र चहल और अमित मिश्रा दोनों के लेग स्पिनर हैं। ऐसे में कप्तान के सामने सवाल होगा कि वो मौका किसे दें। चिन्नास्वामी स्टेडियम के अनुभव को देखते हुए चहल को मिश्रा पर तरजीह दी जा सकती है। इसके अलावा रैना ऑफ स्पिन और युवराज की लेफ्ट आर्म स्पिन टीम के पास है ही।
 तेज गेंदबाज

इस मोर्चे पर कप्तान कोहली शायद ही कोई बदलाव करें। जसप्रीत बुमराह और आशीष नेहरा की जोड़ी में फेरबदल की कोई गुंजाइश ही नहीं। इसका मतलब यह हुआ कि भुवनेश्वर कुमार को एक बार फिर बाहर बैठना पड़ सकता है। नेहरा और बुमराह की जोड़ी ने दूसरा टी-20 टीम के नाम किया था।

 

You May Also Like

English News