टेस्ट टीम में ऋषभ पंत या दिनेश कार्तिक? उलझन में मैनेजमेंट

इंग्लैंड लॉयन्स के खिलाफ चार दिवसीय मैच में इंडिया-ए के लिए संतोषजनक बात अजिंक्य रहाणे और युवा ऋषभ पंत की बल्लेबाजी रही. ये दोनों इंग्लैंड के खिलाफ एक अगस्त से बर्मिंघम में शुरू हो रही पांच टेस्ट की सीरीज से पूर्व विकेट पर अहम समय बिताने में सफल रहे.इंग्लैंड लॉयन्स के खिलाफ चार दिवसीय मैच में इंडिया-ए के लिए संतोषजनक बात अजिंक्य रहाणे और युवा ऋषभ पंत की बल्लेबाजी रही. ये दोनों इंग्लैंड के खिलाफ एक अगस्त से बर्मिंघम में शुरू हो रही पांच टेस्ट की सीरीज से पूर्व विकेट पर अहम समय बिताने में सफल रहे.  पहली बार भारतीय टेस्ट टीम में शामिल किए गए ऋषभ पंत ने लगातार दूसरे अर्धशतक के साथ पहले टेस्ट से पूर्व भारतीय टीम प्रबंधन की अंतिम एकादश के चयन को लेकर परेशानी बढ़ा दी. भारत ने 18 सदस्यीय टीम में पंत और दिनेश कार्तिक को विकेटकीपर के तौर पर चुना है.  इस मैच में मैच में टेस्ट के सदस्यों उपकप्तान रहाणे, सलामी बल्लेबाज मुरली विजय, करुण नायर और पंत के पास अभ्यास का अच्छा मौका था. चार टेस्ट खिलाड़ियों की मौजूदगी वाले तेज गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ पंत ने 58 और 61 रनों की पारियां खेलकर छाप छोड़ी.  रहाणे ने भी क्रीज पर उपयोगी समय बिताते हुए 49 और 48 रन बनाए. नायर और विजय हालांकि दोनों पारियों में विफल रहे. विजय ने पहली पारी में 8 रन बनाए, जबकि दूसरी पारी में खाता भी खोल नहीं पाए.  इंग्लैंड लॉयन्स के खिलाफ मैच के नतीजे की बात करें, तो इंडिया-ए को एकमात्र अनौपचारिक टेस्ट में 254 रनों से हार का सामना करना पड़ा. भारतीय बल्लेबाजों की विदेशी हालात में लाल गेंद के खिलाफ कमजोरी एक बार फिर उजागर हुई.  भारत-ए ने इससे पहले दो मैचों की सीरीज में वेस्टइंडीज-ए को 1-0 से हराया था, लेकिन राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन वाली टीम को लॉयन्स के खिलाफ करारी हार का सामना करना पड़ा.

पहली बार भारतीय टेस्ट टीम में शामिल किए गए ऋषभ पंत ने लगातार दूसरे अर्धशतक के साथ पहले टेस्ट से पूर्व भारतीय टीम प्रबंधन की अंतिम एकादश के चयन को लेकर परेशानी बढ़ा दी. भारत ने 18 सदस्यीय टीम में पंत और दिनेश कार्तिक को विकेटकीपर के तौर पर चुना है.

इस मैच में मैच में टेस्ट के सदस्यों उपकप्तान रहाणे, सलामी बल्लेबाज मुरली विजय, करुण नायर और पंत के पास अभ्यास का अच्छा मौका था. चार टेस्ट खिलाड़ियों की मौजूदगी वाले तेज गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ पंत ने 58 और 61 रनों की पारियां खेलकर छाप छोड़ी.

रहाणे ने भी क्रीज पर उपयोगी समय बिताते हुए 49 और 48 रन बनाए. नायर और विजय हालांकि दोनों पारियों में विफल रहे. विजय ने पहली पारी में 8 रन बनाए, जबकि दूसरी पारी में खाता भी खोल नहीं पाए.

इंग्लैंड लॉयन्स के खिलाफ मैच के नतीजे की बात करें, तो इंडिया-ए को एकमात्र अनौपचारिक टेस्ट में 254 रनों से हार का सामना करना पड़ा. भारतीय बल्लेबाजों की विदेशी हालात में लाल गेंद के खिलाफ कमजोरी एक बार फिर उजागर हुई.

भारत-ए ने इससे पहले दो मैचों की सीरीज में वेस्टइंडीज-ए को 1-0 से हराया था, लेकिन राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन वाली टीम को लॉयन्स के खिलाफ करारी हार का सामना करना पड़ा.

You May Also Like

English News