‘टेस्ट सीरीज में कुलदीप भारत के लिए हो सकते हैं मास्टरस्ट्रोक’

इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने वनडे सरीज में कुलदीप यादव का भले ही तोड़ निकाल लिया हो, लेकिन इंग्लैंड के बाएं हाथ के पूर्व स्पिनर फिल टफनेल ने टेस्ट टीम में उनके चयन को सही करार देते हुए कहा कि उन्हें पांच दिवसीय मैच में मौका मिलना चाहिए.इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने वनडे सरीज में कुलदीप यादव का भले ही तोड़ निकाल लिया हो, लेकिन इंग्लैंड के बाएं हाथ के पूर्व स्पिनर फिल टफनेल ने टेस्ट टीम में उनके चयन को सही करार देते हुए कहा कि उन्हें पांच दिवसीय मैच में मौका मिलना चाहिए.  टफनेल ने कुलदीप की तारीफ करते हुए कहा कि इस बाएं हाथ के स्पिनर के पास ‘अनूठा’ कौशल है. टफनेल ने कहा, ‘आपको बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर ज्यादा नहीं मिलेंगे. सभी प्रारूपों में कुछ ही ऐसे स्पिनर हैं. कुलदीप अनूठा गेंदबाज है. जब आप ऐसे गेंदबाज को देखते हैं तो उस पर काम करने की जरूरत है क्योंकि हमने ऐसा पहले कभी नहीं देखा. यह एक विशेष क्षमता और बहुत अनूठा है.’  जब उनसे पूछा गया कि क्या कुलदीप को एक अगस्त से शुरू हो रहे पहले टेस्ट में मौका मिलना चाहिए तो उन्होंने कहा, ‘मैं उन्हें निश्चित तौर पर मैदान पर उतारूंगा. यह अच्छी बात है की भारत ने उन्हें वापस नहीं भेजा. यह भी हो सकता है कि पिच और हालात को देखते हुए भारत तीन स्पिनरों के साथ खेले.’  उन्होंने कहा, ‘भारतीय टेस्ट टीम में तीन विश्व स्तरीय स्पिन गेंदबाज हैं, लेकिन मैं निश्चित तौर पर कुलदीप को खेलते देखना चाहूंगा. मैं उन्हें इंग्लैंड के बल्लेबाजों को गेंदबाजी करते देखना चाहता हूं.’  वनडे सीरीज में इंग्लैंड की जीत पर टफनेल ने कहा कि उनके स्पिनरों ने भारतीय स्पिनरों से बेहतर गेंदबाजी की. आदिल राशिद और मोईन खान की जोड़ी ने आठ विकेट लिए, जिसमें राशिद 38 रन पर दो विकेट और 49 रन पर तीन विकेट के प्रदर्शन के साथ ज्यादा प्रभावी रहे. कुलदीप ने पहले वनडे में 25 रन देकर छह विकेट चटकाए और उसके बाद उन्होंने 68 रन पर तीन विकेट तथा 55 रन पर कोई विकेट नहीं, का औसत प्रदर्शन किया. युजवेंद्र चहल को सीरीज में दो ही विकेट मिल पाए.  उन्होंने कहा, ‘भारतीय बल्लेबाज स्पिन गेंदबाजी खेलने में बहुत ही कुशल हैं, लेकिन इस समय राशिद और मोईन की जोड़ी अच्छा कर रही है. वे वनडे क्रिकेट में बहुत अनुभवी हैं और अपने खेल के शीर्ष पर हैं. उन्हें मौसम से भी मदद मिल रहीं क्योंकि यहां मौसम शुष्क है.’

टफनेल ने कुलदीप की तारीफ करते हुए कहा कि इस बाएं हाथ के स्पिनर के पास ‘अनूठा’ कौशल है. टफनेल ने कहा, ‘आपको बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर ज्यादा नहीं मिलेंगे. सभी प्रारूपों में कुछ ही ऐसे स्पिनर हैं. कुलदीप अनूठा गेंदबाज है. जब आप ऐसे गेंदबाज को देखते हैं तो उस पर काम करने की जरूरत है क्योंकि हमने ऐसा पहले कभी नहीं देखा. यह एक विशेष क्षमता और बहुत अनूठा है.’

जब उनसे पूछा गया कि क्या कुलदीप को एक अगस्त से शुरू हो रहे पहले टेस्ट में मौका मिलना चाहिए तो उन्होंने कहा, ‘मैं उन्हें निश्चित तौर पर मैदान पर उतारूंगा. यह अच्छी बात है की भारत ने उन्हें वापस नहीं भेजा. यह भी हो सकता है कि पिच और हालात को देखते हुए भारत तीन स्पिनरों के साथ खेले.’

उन्होंने कहा, ‘भारतीय टेस्ट टीम में तीन विश्व स्तरीय स्पिन गेंदबाज हैं, लेकिन मैं निश्चित तौर पर कुलदीप को खेलते देखना चाहूंगा. मैं उन्हें इंग्लैंड के बल्लेबाजों को गेंदबाजी करते देखना चाहता हूं.’

वनडे सीरीज में इंग्लैंड की जीत पर टफनेल ने कहा कि उनके स्पिनरों ने भारतीय स्पिनरों से बेहतर गेंदबाजी की. आदिल राशिद और मोईन खान की जोड़ी ने आठ विकेट लिए, जिसमें राशिद 38 रन पर दो विकेट और 49 रन पर तीन विकेट के प्रदर्शन के साथ ज्यादा प्रभावी रहे. कुलदीप ने पहले वनडे में 25 रन देकर छह विकेट चटकाए और उसके बाद उन्होंने 68 रन पर तीन विकेट तथा 55 रन पर कोई विकेट नहीं, का औसत प्रदर्शन किया. युजवेंद्र चहल को सीरीज में दो ही विकेट मिल पाए.

उन्होंने कहा, ‘भारतीय बल्लेबाज स्पिन गेंदबाजी खेलने में बहुत ही कुशल हैं, लेकिन इस समय राशिद और मोईन की जोड़ी अच्छा कर रही है. वे वनडे क्रिकेट में बहुत अनुभवी हैं और अपने खेल के शीर्ष पर हैं. उन्हें मौसम से भी मदद मिल रहीं क्योंकि यहां मौसम शुष्क है.’

You May Also Like

English News