ट्रंप का संकल्पः अमेरिका में होगी धार्मिक स्वतंत्रता की हिफाजत, लेकिन आतंकवाद बर्दाश्त नहीं

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने धार्मिक स्वतंत्रता की हिफाजत करने और उसे बढ़ावा देने का संकल्प लिया है। ट्रंप ने ईसाई समुदाय की एक सभा में कहा कि आतंकवाद आज दुनिया में धार्मिक स्वतंत्रता पर मंडराने वाले सबसे गंभीर और भयावह खतरों में से एक है।

ये हैं सोशल मीडिया पर वायरल अब-तक के सबसे हॉट 3 विडियो, जिन्हें देखकर किसके भी छुट जायेंगे पसीने!

ट्रंप का संकल्पः अमेरिका में होगी धार्मिक स्वतंत्रता की हिफाजत, लेकिन आतंकवाद बर्दाश्त नहीं

ट्रंप ने पूर्व सैनिकों के सम्मान में आयोजित ‘सेलिब्रेट फ्रीडम’ में कहा,  ‘हम इस आतंकवाद और चरमपंथ को अपने देश में फैलने या हमारे तटों पर या अपने शहरों में शरणस्थली खोजने की अनुमति नहीं दे सकते।’

#Video: अकेले में चल रहा था प्राइवेट काम, नहीं दे रही थी छूने, और तभी वहां पहुंचे लड़के, फिर…!

 उन्होंने कहा, ‘हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि जो कोई भी हमारे देश से जुड़ना चाहता है, वह हमारे मूल्यों को साझा करे और उसमें हमारी जनता से प्यार करने के यह समारोह ट्रंप की प्रचार रैलियों जैसा था।  राष्ट्रपति ने भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि अमेरिका ‘एक बार फिर जीतेगा’। न्यूज मीडिया पर ट्रंप द्वारा हमले बोले जाने का समर्थन भीड़ ने चिल्लाते हुए किया।

You May Also Like

English News