ट्रंप के साथ व्हाइट हाउस में डिनर करने वाले पहले नेता होंगे मोदी, 5 घंटे रहेंगे साथ

व्हाइट हाउस में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के बीच होने वाली मुलाकात दोनों नेताओं के लिए खास है. इस दौरान कम से कम पांच घंटे दोनों नेता साथ में बिताएंगे और एक दूसरे को जानने और समझने में वक्त बिताएंगे. दोनों नेता आपसी संबंधों को मजबूत करने के साथ भारत-अमेरिका संबंधों को और मजबूत बनाने पर चर्चा करेंगे.

ट्रंप के साथ व्हाइट हाउस में डिनर करने वाले पहले नेता होंगे मोदी, 5 घंटे रहेंगे साथ

दोनों नेताओं के बीच सोमवार को 3.30 बजे शाम को मुलाकात होगी. इसके बाद मीडिया के लिए एक संक्षिप्त फोटो अप कार्यक्रम होगा और फिर दोनों नेता प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत के लिए आगे बढ़ेंगे. इसके बाद एक कॉकटेल रिसेप्शन भी होगा.

ISRO ने की ये बड़ी खोज, अब दुश्मनों पर रखेगी कुछ इस तरह नज़र…

दिन का अंत व्हाइट हाउस डिनर के साथ होगा. यह पहली बार होगा जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक विदेशी नेता के दौरे पर डिनर की मेजबानी करेंगे. प्रधानमंत्री मोदी के दौरे पर मीडिया को जानकारी देने वाले अधिकारी ने इस डिनर कार्यक्रम को बेहद महत्वपूर्ण बताया और कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत में व्हाइट हाउस रेड कारपेट बिछाने को उत्सुक है.

अभी अभी: रजनीकांत की फिल्म के सेट पर हुई एक की मौत, करंट लगने से गई…

अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप का रुख एशिया-प्रशांत और वैश्विक मुद्दों पर काफी आलोचनात्मक हैं, लेकिन पीएम मोदी का दौरा भारत-अमेरिका की रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत बनाने का अवसर प्रदान करेगा. डोनाल्ड ट्रंप के अमेरिकी राष्ट्रपति बनने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ उनकी तीन बार फोन पर बातचीत हो चुकी है. और यह पहली व्यक्तिगत मुलाकात होगी.

BJP को आनन-फानन में याद आए श्यामा प्रसाद मुखर्जी..

दोनों देशों के अधिकारियों ने दोनों नेताओं को बिजनेस केंद्रित व्यक्ति के रूप में रेखांकित किया है. साथ ही यह भी कहा है कि दोनों नेता सार्वजनिक रूप से काफी एक्टिव हैं. सोशल मीडिया पर दुनिया के सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले नेताओं में ट्रंप और मोदी ऊपरी क्रम में हैं. ट्विटर पर ट्रंप के 32.7 मिलियन फॉलोवर हैं, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 30.9 मिलियन फॉलोवर हैं.

हवाई जहाज में थी टीम इंडिया तो कुंबले ने दिया इस्तीफा, ऐसे चला पता

व्हाइट हाउस के अधिकारी ने कहा कि एक मजबूत भारत अमेरिका के हित में है. राष्ट्रपति ट्रंप इस मोमेंटम को बनाए रखना चाहते हैं. बता दें कि चुनाव प्रचार के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और भारतीय-अमेरिकी समुदाय के बीच काफी घनिष्ठता देखी गई. इस दौरान कई मौकों पर ट्रंप ने भारत के साथ संबंधों को लेकर अपनी भावनाओं को खुलकर इजहार किया था.

You May Also Like

English News