ट्रंप ने तानाशाह किम जोंग-उन को दी बड़ी धमकी, कहा- हमें आजमाने की कोशिश न करो

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन को चेतावनी दी. ट्रंप ने किम जोंग-उन से कहा अगर वह अपनी परमाणु हथियारों की महत्वाकांक्षाओं को नहीं छोड़ता तो, उत्तरी कोरिया भारी नुकसान उठाना पडेगा.ट्रंप ने तानाशाह किम जोंग-उन को दी बड़ी धमकी, कहा- हमें आजमाने की कोशिश न करोTwitter: ट्विटर ने यूजरों को लिए जारी नया फीचर, कैरेक्टर लिमिट बढ़ाई गयी!

उन्होंने उत्तर कोरिया के खिलाफ सख्ती दिखाते हुए सियोल में नेशनल असेंबली के भाषण में ट्रंप ने कहा, ‘हमें कमज़ोर आंकने की गलती ना करें और ना ही आजमाने की कोशिश करें.’ 

बता दें कि ट्रंप इन दिनो अपने पहले एशियाई दौरे पर हैं. उन्होंने अपने दौरे की शुरुआत जापान से की थी.  इसके बाद वो साउथ कोरिया पहुंचे. अब चीन के लिए रवाना हो गए हैं. उनके दौरे में वियतनाम और फिलीपीन भी शामिल हैं.

उत्तर कोरिया के खिलाफ अपनाया सख्त रुख

ट्रंप ने दुनिया के सभी देशों से उत्तर कोरिया के खिलाफ एकजुट होकर अलग-थलग करने का आग्रह किया. साथ ही कहा कि उत्तर कोरिया को किसी भी प्रकार की सहायता पहुंचाने की और उनसे कुछ लेने की जरूरत नहीं है. साथ ही उन्होंने कहा कि अमेरिका किसी भी तरह के हमले रोकने के लिए अपनी पूरी सैनिक ताकत का इस्तेमाल करने को तैयार है.

बैठक करने के लिए तैयार- ट्रंप 

हाल ही में ट्रंप ने कहा था कि नॉर्थ कोरिया टेबल पर बातचीत के लिए आए और न्यूक्लियर हथियारों को लेकर डील करे. उन्होंने कहा था, ‘मैं बैठक करूंगा. मैंने इस बारे में नहीं सोचा कि यह ताकत है या कमजोरी, मेरा मानना है कि लोगों के साथ बैठकर बात करने में कुछ गलत नहीं है.  उन्होंने कहा कि इसलिए, निश्चित तौर पर मैं इसके लिए तैयार हूं लेकिन हमें देखना होगा कि इसका नतीजा क्या होगा, मुझे लगता है कि अभी हम उस स्थिति से काफी दूर हैं.

ट्रंप की जापान यात्रा के दौरान प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप और पूरे हिंद-प्रशांत को लेकर अमेरिका और जापान की रणनीतियां जिस तरह एक ही रास्ते पर हैं, वह भी अभूतपूर्व है. उन्होंने कहा कि ट्रंप के जापान पहुंचने के बाद  जापानी पीएम और ट्रंप ने गोल्फ खेला  था. जिससे पहले ही दिन उनके बीच नजदीकी का संकेत मिल गया. दोनों नेताओं ने बाद में खेल की तस्वीरें ट्वीटर पर डाली. इसमें आबे ने लिखा कि इस खेल की प्रकृति तनाव दूर करने की है और इसी वजह से वह कुछ कठिन मुद्दों पर सरलता से बात कर सके.

You May Also Like

English News