ट्रेन लेट होने पर अधिकारी देंगे सफाई, खेद जताएंगे

अब रेलवे अधिकारी वीडियो के जरिये ट्रेन लेट होने की सफाई देंगे। खेद प्रकट करेंगे। इसके लिए प्रमुख स्टेशनों पर पूछताछ कक्ष के बाहर एलसीडी स्क्रीन लगाने के आदेश दिए गए हैं।अब रेलवे अधिकारी वीडियो के जरिये ट्रेन लेट होने की सफाई देंगे। खेद प्रकट करेंगे। इसके लिए प्रमुख स्टेशनों पर पूछताछ कक्ष के बाहर एलसीडी स्क्रीन लगाने के आदेश दिए गए हैं।  कई ट्रेनें लंबे समय से 10 से 20 घंटे तक देरी से चल रही हैं। कई बार तो ट्रेन ही निरस्त कर दी जाती है। इससे यात्री खासी परेशानी झेलते हैं। कई बार ट्रेनों के लेट चलने पर यात्रियों ने हंगामा तक किया।  यात्रियों के हंगामे से बचने के लिए रेलवे बोर्ड चेयरमैन दफ्तर से 12 जून को सभी रेल अफसरों को पत्र भेजा गया है। इसमें कहा गया है कि सभी प्रमुख स्टेशनों के पूछताछ कक्ष में स्क्रीन लगेगी, जिसमें एक मिनट की वीडियो क्लिप दिखाई जाएगी।  ये होंगे संदेश  'कृपया धीरज रखें, आपका धीरज आपके भविष्य को बेहतर बनाने में मदद करेगा'। टे्रन लेट होने पर खेद जताने के अलावा वीडियो में यह भी कहा जाएगा कि पटरियों को दुरुस्त करने के काम से भविष्य में यात्रियों को यात्रा का  बेहतर अनुभव होगा। रेल मंडल में कितने से कितने बजे तक कौन सी लाइन पर यातायात बंद रहेगा, इसकी भी जानकारी दी जाएगी।  देश में ट्रेन लेट चलने का आंकड़ा  - 2017-18 में 29.61 फीसद मेल और एक्सप्रेस देरी से चलीं।  - 2016-17 में 23.31 फीसद मेल व एक्सप्रेस ट्रेन देरी से चलीं।  -चालू वित्तीय वर्ष में 44 फीसद ट्रेन देरी से चल रही हैं।  -मुरादाबाद रेल मंडल में 48 फीसद ट्रेनें देरी से चल रही है।  लेट होने वाली ट्रेनों की जानकारी यात्रियों को एनाउसमेंट करके देना शुरू कर दिया गया है।  स्टेशन पर एलसीडी लगाने की योजना है, जिसके द्वारा अधिकारी ट्रेनों के लेट होने की जानकारी वीडियो संदेश से देंगे।

कई ट्रेनें लंबे समय से 10 से 20 घंटे तक देरी से चल रही हैं। कई बार तो ट्रेन ही निरस्त कर दी जाती है। इससे यात्री खासी परेशानी झेलते हैं। कई बार ट्रेनों के लेट चलने पर यात्रियों ने हंगामा तक किया।

यात्रियों के हंगामे से बचने के लिए रेलवे बोर्ड चेयरमैन दफ्तर से 12 जून को सभी रेल अफसरों को पत्र भेजा गया है। इसमें कहा गया है कि सभी प्रमुख स्टेशनों के पूछताछ कक्ष में स्क्रीन लगेगी, जिसमें एक मिनट की वीडियो क्लिप दिखाई जाएगी।

ये होंगे संदेश

‘कृपया धीरज रखें, आपका धीरज आपके भविष्य को बेहतर बनाने में मदद करेगा’। टे्रन लेट होने पर खेद जताने के अलावा वीडियो में यह भी कहा जाएगा कि पटरियों को दुरुस्त करने के काम से भविष्य में यात्रियों को यात्रा का

बेहतर अनुभव होगा। रेल मंडल में कितने से कितने बजे तक कौन सी लाइन पर यातायात बंद रहेगा, इसकी भी जानकारी दी जाएगी।

देश में ट्रेन लेट चलने का आंकड़ा

– 2017-18 में 29.61 फीसद मेल और एक्सप्रेस देरी से चलीं।

– 2016-17 में 23.31 फीसद मेल व एक्सप्रेस ट्रेन देरी से चलीं।

-चालू वित्तीय वर्ष में 44 फीसद ट्रेन देरी से चल रही हैं।

-मुरादाबाद रेल मंडल में 48 फीसद ट्रेनें देरी से चल रही है।

लेट होने वाली ट्रेनों की जानकारी यात्रियों को एनाउसमेंट करके देना शुरू कर दिया गया है।

स्टेशन पर एलसीडी लगाने की योजना है, जिसके द्वारा अधिकारी ट्रेनों के लेट होने की जानकारी वीडियो संदेश से देंगे।

You May Also Like

English News