डाकघर को चोरों ने बनाया अपना निशाना, नकदी लेकर फरार

डाकघर को चोरों ने बनाया अपना निशाना, नकदी लेकर फरार लखनऊ , 5 दिसम्बर । राजधानी में चोरों का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। शहरी इलाके से लेकर ग्रामीण इलाके तक चोरों का गैंग वारदात को अंजाम दे रहा है और पुलिस को भनक तक नहीं लग पा रही है।
 
रविवार की देर रात चोरों ने गोमतीनगर स्थित एक पोस्ट आफिस को अपना निशाना बनाया और ताला तोड़कर अंदर घुस गये। चोर पोस्ट आफिस में रखे 5400 रुपये चोरी कर ले गये। इस मामले में पुलिस ने चोरी की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। गोमतीनगर के विशालखण्ड इलाके में एक नया पोस्ट आफिस बना है। अभी इस पोस्ट आफिस में सिर्फ डाक टिकट ब्रिकी का काम होता है। बताया जाता है कि शनिवार को पोस्ट आफिस खुला था। शाम को पोस्ट आफिस में तैनात उप डाकपाल अरूण कुमार ने पोस्ट आफिस बंद किया और अपने घर चले गये। सोमवार की सुबह जब वह डाकघर पहुंचे तो देखा कि डाकघर के दोनों दरवाजे टूटे हैं। अंदर जाकर देखा कि सारा सामान बिखरा पड़ा था। चोर टिकट ब्रिकी के 5400 रुपये चोरी कर ले गये थे। अरूण कुमार ने बताया कि चोरी गये सभी नोट 100-100 के थे। अरूण कुमार ने डाकघर में चोरी की सूचना फौरन पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना मिलते ही मौके पर गोमतीनगर पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने छानबीन शुरू की पर कुछ हाथ नहीं लगा। इसके बाद पुलिस उप डाकपाल की तहरीर पर इस मामले में अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। न को कैमरा न ही कोई गार्ड नवनिर्मित विशालखण्ड डाकघर की सुरक्षा व्यवस्था भगवान भरोसे थी। डाकघर में न तो कोई सीसीटीवी कैमरा लगा था और न ही सुरक्षा के लिए कोई गार्ड मौजूद था। ऐसे में डाकघर चोरों के लिए साफ्ट टारगेट था और चोरों ने बड़ी आराम से चोरी की वारदात को अंजाम दिया और वहां से फरार हो गये। अब गोमतीनगर पुलिस डाकघर के आसपास के लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से चोरों का पता लगा रही है। डाकघर की सुरक्षा व्यवस्था के बारे में जब उप डाकपाल से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि अभी डाकघर पूरी तरह काम नहीं कर रहा है। इसलिए उनके अलावा कोई और स्टाफ भी नहीं है। जैसे ही डाकघर पूरी तरह चालू हो जायेगा वैसे ही स्टाफ भी बढ़ेगा।

 
 
 
 

You May Also Like

English News