डिहाइड्रेशन होने पर घर में ऐसे बनाएं ‘ओआरएस’ का घोल…

ओरल रिहाइड्रेशन सलूशन (ओआरएस) से डायरिया से होने वाली मौत को भी कम किया जा सकता है डायरिया होने पर शरीर से खनिज लवण की मात्रा कम हो जाती है। इसलिए इसकी भरपाई के लिए नमक-पानी का उचित मात्रा में मिलाकर पिलाया जाता है। डायरिया में पहली दवा के रूप में ही देना चाहिए। विशेषज्ञ डायरिया होने पर नवजात बच्चों को स्तनपान के साथ ओआरएस घोल देना जरूरी मानते हैं। इसलिए इन दिनों बच्चों की होने वाली मौतों में काफी कमी आई है। अगर घर में किसी को डिहाइड्रेशन है और स्‍टोर घर से दूर है तो हम आपको बता रहें हैं कि घर में ओआरएस कैसे बनाएं।डिहाइड्रेशन होने पर घर में ऐसे बनाएं 'ओआरएस' का घोल...जानिए: शराब पीने से नुकसान नहीं होता है फायदा, बढ़ती है मेमोरी…

घर में ओआरएस बनाने की सामाग्री

1-एक छोटा चम्‍मच सादा नमक 
2-एक चम्‍मच खाने का सोडा 
3-उबालकर ठंडा किया हुआ पानी एक लीटर 
4-आधा नींबू का रस 
5-शक्‍कर एक चौथाई चम्‍मच 

बनाने की विधि

1- ठंडे किए पानी में सभी सामाग्री को मिट्टी या कांच के बर्तन रखें। तांबे या पीतल के बर्तन में भूलकर भी न रखें। और घंटे के बाद नया घोल तैयार करें। यानी कि घंटे से ज्‍यादा देर तक घोल न रखें। 

2- बच्‍चों या बड़ों को उल्‍टी या दस्‍त शुरू होते ही ओआरएस का घोल दें। मरीज को सादा पानी पिलाने से बचना चाहिए।

You May Also Like

English News