डेढ़ साल बाद मिला वीजा, वेलेंटाइन डे पर अपने शौहर से मिलेंगी जुबैदा

ठीक वेलेंटाइन डे के एक दिन पहले पाकिस्तान समझौता एक्सप्रेस मोहब्बत का पैगाम लेकर सोमवार को भारत आई। पाकिस्तान से समझौता एक्सप्रेस में कई ऐसे परिवार थे, जिन्हें कई वर्षों बाद भारत का वीजा मिला था।
डेढ़ साल बाद मिला वीजा, वेलेंटाइन डे पर अपने शौहर से मिलेंगी जुबैदा

इन्हीं परिवारों में करांची के मोहब्बत असगर का भी परिवार था, जो कि पाकिस्तान से मोहब्बत की दुआएं लेकर अपने रिश्तेदारी में दिल्ली जा रहा था। इस परिवार में शामिल जुबैदा का निकाह दिल्ली में तय है लेकिन वीजा न मिलने के चलते सगाई नहीं हो सकी है। इत्तफाक से वेलेंटाइन डे के दिन भारत आने वाली जुबैदा बहुत खुश है। कहती है कि वेलेंटाइन डे पर शौहर से मिलने का ख्वाब तो हर कोई देखता है लेकिन जिस तरह मेरा यह ख्वाब इत्तफाक ने पूरा कर दिया,  मैं बहुत खुश हूं। जुबैदा की अम्मी नरगिस दिल्ली की है। नरगिस ने ही अपनी छोटी बहन के लड़के यूनुस के लिए जुबैदा का रिश्ता फोन पर तय कर लिया था। सबसे बड़ी बात है कि निकाह की रस्में निभाने के लिए जुबैदा व यूनुस के परिवार को एक-दूसरे देशों का वीजा की जरूरत है। वीजा मिलने के बाद ही निकाह की तैयारियां होनी थी। लेकिन वीजा यूनुस के बजाए जुबैदा को मिला। ऐसे में निकाह के पहले जो रस्में हैं, वह दिल्ली में पूरी होने के बाद यूनुस निकाह करने के लिए पाकिस्तान जाएगा। 

गलियों में घूमने वाले कुत्तों की सर्जरी कर रहा एक सिरफिरा, कइयों की मौत!

सर! डेढ़ साल बाद मिला है वीजा

जुबैदा कहती है कि भारत-पाकिस्तान दोनों प्यार से रहे। ताकि दोनों देशों के बीच रिश्तेदारियां बनती रहे। उनका ननिहाल भारत में है। उनकी अम्मी नरगिस बानों 1965 के जंग के बाद बीस वर्ष बाद 1985 में भारत आई थी। दोनों देशों के बीच बनते बिगड़ते रिश्तों के चलते ही दोनों देशों की अवाम को वीजा जल्दी नहीं मिलता। जुबैदा फोटो खिंचवाने के लिए तैयार हो गई लेकिन उनके साथ उनके परिवार ने फोटो खिंचवाने पर मना कर दिया। सर! डेढ़ साल बाद मिला है वीजा
जुबैदा की उम्र 23 वर्ष है। करांची में जुबैदा एक प्राइवेट कंपनी में अकाउंट का काम करती है। वह कहती हैं कि मेरे खाला (मौसी) का बेटा यूनुस दिल्ली के दरियागंज में रहता है। सगाई होनी है। डेढ़ वर्ष बाद वीजा मिला है। हालांकि रिश्तेदारी है, ऐसे में बातचीत होती ही रहती है। यह संयोग ही था कि कल 14 फरवरी है और वेलेंटाइन डे है।पंजाब की चुनावी अरेबियन नाइट्स, सोशल मीडिया पर ऑडियो-विजुअल प्रचार

खुश हूं कि कल मैं अपने होने वाले शौहर को वेलेंटाइन का गिफ्ट दूंगी, जो मैं उनके लिए पाकिस्तान से लाई हूं। पहले क्यों नही आई भारत इसके जवाब में जुबैदा ने कहा कि  सर! हद हो गई, डेढ़ वर्ष बाद तो वीजा मिला है। पाकिस्तान से अमेरिका जाना आसान है लेकिन भारत आना आसान नही है, वीजा के लिए चक्कर काटते-काटते जूती घिस जाती है।

loading...

You May Also Like

English News