डोकलाम विवादः राहुल ने संसदीय पैनल की बैठक में सबसे ज्यादा उठाए सवाल

डोकलाम क्षेत्र में चीन की गतिविधियों को लेकर हाल के दिनों में आई खबरों को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने संसदीय पैनल की बैठक में सवाल उठाए हैं। विदेश सचिव एस. जयशंकरने इस मामले पर कांग्रेस सांसद शशि थरूर की अध्यक्षता वाली विदेश मामलों की संसदीय स्थायी समिति को जानकारी दी है। बैठक में थरूर को डोकलाम स्थिति पर केंद्रित भारत-चीन संबंधों के बारे में भी बताया गया। डोकलाम विवादः राहुल ने संसदीय पैनल की बैठक में सबसे ज्यादा उठाए सवाल#बड़ा हादसा: अफगानिस्तान में हुए आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या बढ़ी…

समिति में राहुल गांधी भी सदस्य हैं और उन्होंने मीडिया खबरों को लेकर सबसे ज्यादा सवाल उठाए। बैठक में एक सदस्य ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि कांग्रेस उपाध्यक्ष ने खबरों के हवाले से दावा किया कि चीन ने डोकलाम क्षेत्र में सड़क निर्माण फिर शुरू कर दिया है। 

इसके जवाब में जयशंकर ने कहा कि इस बारे में सरकार को कोई जानकारी नहीं है कि चीन इसके स्वायत्त क्षेत्र के बाहर सड़क निर्माण कर रहा है। हालांकि समिति के सदस्यों ने कूटनीतिक तरीके से डोकलाम गतिरोध का हल निकालने के लिए सरकार की तारीफ भी की। 

राहुल गांधी जानना चाहते थे कि सरकार ने इस तरह की स्थिति उत्पन्न नहीं होने देने के लिए क्या कदम उठाए हैं। उन्होंने लद्दाख में चीन की घुसपैठ की खबरों पर भी सवाल उठाए। थरूर ने हालांकि बैठक की जानकारी देने इनकार कर दिया और इतना ही कहा कि यह एक महत्वपूर्ण और दिलचस्प बैठक रही। 

करीब 90 मिनट चली बैठक में विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने रोहिंग्या मसले पर भी सदस्यों को जानकारी दी। पैनल के 30 में से सिर्फ छह सदस्यों ने बैठक में हिस्सा लिया था। इनमें भाजपा के सिर्फ एक सांसद रिचर्ड हे ही थे। 

 

You May Also Like

English News