ताजमहल विवाद पर आजम खान ने दिया विवादित बयान…

ताजमहल को लेकर जुबानी जंग और भी तेज हो गयी है, एक के बाद एक बयान ने ताजमहल के पुरे इतिहास को खोल कर रख दिया है. इसमें आजम खान का एक बयान आया है, जिसमे  विनय कटियार की ओर से ताज महल को हिंदू मंदिर के ऊपर बनाए जाने के दावे की प्रतिक्रिया दी गयी है.ताजमहल विवाद पर आजम खान ने दिया विवादित बयान...सरयू तट पर 1.87 लाख दीये: क्या CM योगी के अयोध्या से हार गया PM मोदी का काशी?.

उल्लेखनीय है कि सोम ने कहा था, ”कई लोगों को दुख हुआ कि आगरा का ताज महल ऐतिहासिक धरोहरों की लिस्ट से हटा दिया गया. किस इतिहास की बात कर रहे हैं हम? जिस इंसान ने ताज महल बनवाया था, उसने अपने पिता को कैद कर लिया था. वह हिंदुओं को खत्म करना चाहता था, अगर यही इतिहास है, तो यह बहुत दुःखद है, और हम इतिहास बदल डालेंगे. मैं आपको इसकी गारंटी देता हूं.” जिसके बाद प्रतिक्रिया देते हुए आजम खान ने कहा ‘ताजमहल को डायनामाइट से उड़ाना लगभग तय है, इसकी वजह यह है कि पीएन ओक ने अपनी पुस्तक में लिखा है कि इस इमारत के नीचे शिव मंदिर था. इस पर भारत की फासिस्ट ताकतों ने हमेशा से अमल किया है. यदि बाबरी मस्जिद गिर सकती है तो देश में कोई भी इमारत तोड़ी जा सकती है, ऐसे में कोई आश्चर्य नहीं होगा, यदि किसी दिन ताज महल को गिरा दिया जाए.’

अपनी बात को जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि ”यदि इस देश में राम मंदिर के नाम पर बाबरी मस्जिद गिर सकती है तो ये लोग कुछ भी कर सकते हैं. बाबरी मस्जिद को गिराने से पहले भी इसी तरह का माहौल बना था. तब सुप्रीम कोर्ट का स्टे था, सीएम का वादा था और एकता परिषद का प्रस्ताव था, इसके बाद भी उस मस्जिद को गिरा दिया गया था.” यह विवाद  मेरठ के सरधना से बीजेपी विधायक संगीत सोम के उस बयान के बाद से शुरू हुआ था, जिसमें उन्होंने कहा था कि ताज महल का निर्माण गद्दारों ने करवाया था.

You May Also Like

English News