तारीफ सुनकर गदगद हुए पूनावाला, कहा- वंशवाद के खिलाफ लड़ता रहूंगा

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात में शहजाद पूनावाला का जिक्र कर कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जहां आंतरिक रूप से लोकतंत्र नहीं है, ऐसे लोग जनता के लिए काम नहीं कर सकते। पीएम ने कहा कि वो शहजाद से कहना चाहते हैं कि उन्होंने बड़ा हिम्मत का काम किया लेकिन कांग्रेस में जो हो रहा है वह बहुत बुरा है।
पीएम मोदी से अपनी तारीफ सुनकर गदगद हुए पूनावालापीएम मोदी ने कहा कि शहजाद ने कांग्रेस के प्रेसीडेंट चुनाव की पोल खोल दी। शहजाद महाराष्ट्र में कांग्रेस के सीनियर नेता हैं। कांग्रेस इस युवा की आवाज को दबाना चाहती है और उसे सोशल मीडिया  ग्रुप से हटाना चाहती है। क्या यह सहिष्णुता है?
 
पीएम मोदी ने गुजरात में कहा कि उन्होंने कुछ दिनों पहले ही कहा था कि 3 पोलों के नतीजे निश्चित हैं। यूपी के लोकल पोल, गुजरात पोल में बीजेपी की जीत होगी, जबकि कांग्रेस प्रेसीडेंट के चुनाव में एक परिवार की जीत होगी। पीएम ने कहा हम देख चुके हैं कि यूपी में क्या हुआ।

पूनावाला ने पीएम मोदी के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, शुक्रिया, मैं वंशवाद की राजनीति के खिलाफ लड़ता रहूंगा। मेरी आवाज को दबाने की हो रही कोशिशों से मैं चुप नहीं बैठूंगा। आपको बता दें कि शहजाद पूनावाला ने राहुल गांधी और होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव पर निशाना साधते हुए कहा था कि मेरी पार्टी में एक मुद्दा कोई नहीं उठाता, मेरी अंतरात्मा वंशवाद और चापलूसी पर मुझे अब और चुप रहने की इजाजत नहीं देगी।

गुजरात में भाई-भाई के बीच दरार पैदा कर रही कांग्रेस- पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए भरूच पहुंचे। पीएम मोदी ने कांग्रेस की ओर से विकास पगला गया है तंज पर जवाब देते हुए कहा कि बीजेपी का विरोध समझ आता है, लेकिन विकास का विरोध क्यों हो रहा है? 

पटेलों के कांग्रेस को समर्थन दिए जाने पर मोदी ने कहा कि वह ऐसी राजनीति पर उतर आई है कि गुजरात में भाई-भाई के बीच दरार पैदा कर रही है। कांग्रेस के यूपी निकाय चुनाव में खराब प्रदर्शन के लिए पीएम ने कहा कि जो यूपी की भूमि कांग्रेस की कर्मभूमि रही वहां वह हार गई। उन्होंने कहा कि यूपी पंडित जवाहरलाल नेहरू, मोती लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, सोनिया गांधी की कर्मभूमि रही, लेकिन निकाय चुनाव में उनकी क्या हालत हुई, ये सबने देखा।

पीएम ने कहा कि कांग्रेस इन हालातों में पहुंच गई है कि उसके पास बचने का कोई तरीका नहीं है। भरूच के विकास पर पीएम ने कहा कि बीजेपी के शासन में भरूच और कच्छ में सबसे ज्यादा विकास हुआ है और हमारा का एक ही मंत्र और एक ही रास्ता सिर्फ विकास ही विकास है।

भरूच को कांग्रेस नेता अहमद पटेल का गढ़ माना जाता है जिन पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि उन्होंने भरूच के लिए कुछ नहीं किया। जब भरूच में बीजेपी का शासन नहीं था तब यहां महीनों कर्फ्यू लगा रहता था। वहीं किसानों की मदद पर पीएम ने कहा कि गुजरात में 15 लाख हेक्टेयर क्षेत्र पर सिंचाई की व्यवस्था नहीं थी, लेकिन बीजेपी ने यहां नर्मदा का पानी पहुंचाया।

पीएम ने कहा कि 2018 तक नर्मदा में सरदार पटेल की प्रतिमा का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। बता दें कि गुजरात में दो चरणों में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है। पहले चरण के लिए 9 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे, वहीं 14 दिसंबर को दूसरे चरण की वोटिंग होगी। चुनाव के नतीजों का ऐलान 18 दिसंबर को किया जाएगा।

यह चुनाव भाजपा और कांग्रेस के लिए नाक की लड़ाई बन गई है, क्योंकि पिछले तकरीबन बीस सालों से गुजरात में भाजपा की सरकार है और कांग्रेस भी वापसी के रथ पर सवार होना चाहती है। वहीं 2014 के लोकसभा चुनाव के वक्त मोदी ने गुजरात मॉडल का काफी जिक्र किया था। माना जा रहा है कि इस चुनाव के नतीजों का असर 2019 पर पड़ेगा।

 

You May Also Like

English News