तालिबानी सजा: हत्या के गवाह की काट डाली गयी जुबान!

फैजाबाद: उत्तर प्रदेश के फैजाबाद जनपद के इनायतनगर हत्या के मामले में एक गवाह की चार लोगों ने मिलकर जुबान काट डाली। गंभीर रूप से घायल युवक को इलाज के लिए ग्रामीणों ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। युवक की पत्नी की तहरीर पर पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।


फैजाबाद पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पलिया प्रतापशाह गांव निवासी 38 वर्षीय जनकराज सिंह उर्फ बैरिस्टर बीते 9 जनवरी को अपने गांव स्थित राजकीय नलकूप से गेहूं के खेत की सिंचाई कर रहा था कि रात करीब साढ़े दस बजे गांव के चार लोग पहुंच गए।

रामपदारथ एवं रवि ने उसका हाथ पकड़ लिया और बलराम यादव ने उनका गला दबा दिया। इतने में रामस्वरूप ने चाकू से उसकी जबान काट डाली और कहा कि अब देखता हूं जितेंद्र तिवारी की हत्या के मुकदमे में रामपदारथ के खिलाफ कैसे गवाही दोगे। घटना के बाद चारों आरोपी वहां से भाग निकले।

घायल युवक चिल्लाता हुआ गांव की ओर भागा। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों और परिवार के लोग उसको इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया।

इस मामले में उसकी पत्नी ने चार आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायी है। बताया जाता है कि लगभग एक वर्ष पूर्व तहसीलकर्मी हरिश्चंद्र तिवारी के 30 वर्षीय बेटे जितेंद्र तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में जनकराज गवाह था।

loading...

You May Also Like

English News