बड़ी खबर: तीन तलाक के खिलाफ कड़ी इस आखरी लड़की ‘इशरत’ की भी टूट रही हिम्मत, मिल रहे हैं ये ताने!

पति ने दहेज में मिले पैसों से खरीदा था. इस घर में उनके पति का बड़ा भाई, उनकी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्य भी रहते हैं।
मुझमें अब और लड़ने की हिम्मत नहीं बची इशरत बताती हैं कि मैं इस घर में अब असुरक्षित और डरी हुई महसूस करती हूं, इतनी बड़ी लड़ाई लड़ने के बाद अब मुझमें लोगों से और लड़ने की हिम्मत नहीं बची .बड़ी खबर: तीन तलाक की लड़ाई को जरी रखने वाली लड़की इशरत की भी टूट रही हिम्मत, मिल रहे हैं ये ताने!

तीन तलाक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला दिया है जिसका मुस्लिम मर्दों ने विरोध  किया तथा मुस्लिम औरतों ने इसका समर्थन, लेकिन तीन तलाक के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने वाली इशरत जहां की लड़ाई अभी यहीं नहीं समाप्त हुई है.

ये भी पढ़े: BigNews: मोदी की विदेशनीति की बड़ी जीत, अब खुलने वाले हैं बहुत से राज…चरों तरफ मची खलबली!

कोर्ट के इस फैसले के बाद अब इशरत को समाज की यातनाओ का सामना करना पड़ रहा है. इशरत को जान से मरने की धमकिया मिल रही है. कोर्ट के बाहर इशरत की यह लड़ाई कानूनी लड़ाई से कहीं ज्यादा मुश्किल हो रही है.

तीन तलाक के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचने की वजह से इशरत को अपने ससुराल वालों और पड़ोसियों की भी आलोचना का सामना करना पड़ा और उनके ताने सुन ने पद रहे है.बड़ी खबर: तीन तलाक की लड़ाई को जरी रखने वाली लड़की इशरत की भी टूट रही हिम्मत, मिल रहे हैं ये ताने!

लेकिन इन सब के बावजूद इशरत ने अकेले लड़ाई लड़ी और कभी भी उन्होंने अपनी हिम्मत नहीं हारी, उनकी इस लड़ाई का लाभ अब देशभर की मुस्लिम महिलाओं को जरुर मिलेगा.

ये भी पढ़े: खुशखबरी: फिर से तहलका मचाने को तैयार जिओ, अब फिर 3 महीने के लिए फ्री होगा इंटरनेट, जानिये कैसे!

2004 में पति ने फोन पर दिया था तलाक. लेकिन  सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद इशरत को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है, यहां तक कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उनके पड़ोसियों ने ही उनके चरित्र तक पर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं.

इशरत जहां के पति ने उन्हें दुबई से 2014 में फोन पर तलाक दे दिया था, इशरत के बाद अब चार अन्य मुस्लिम महिलाओं ने तीन तलाक के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी, इन तमाम याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक और गैरकानूनी करार दे दिया.

ये भी पढ़े: #बड़ी खबर: CM योगी की समीक्षा बैठक में भाजपा कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हुई मारपीट…

पति ने दहेज में मिले पैसों से खरीदा था. इस घर में उनके पति का बड़ा भाई, उनकी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्य भी रहते हैं।
मुझमें अब और लड़ने की हिम्मत नहीं बची इशरत बताती हैं कि मैं इस घर में अब असुरक्षित और डरी हुई महसूस करती हूं, इतनी बड़ी लड़ाई लड़ने के बाद अब मुझमें लोगों से और लड़ने की हिम्मत नहीं बची .

 

You May Also Like

English News