तुर्की में गुलेन गुट से संपर्क के आरोप में 9000 पुलिसकर्मी निलंबित

अमरीका में स्वनिर्वासित जीवन बिता रहे तुर्की के धर्म गुरु फेतुल्लाह गुलेन के संगठन से संपर्क के आरोप में तुर्की के 9,000 से अधिक पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। इससे पहले बुधवार को आंतरिक मंत्रालय ने कहा था कि पूरे तुर्की में मारे गए छापों में गुलेन के 1,000 से ज्यादा संदिग्ध समर्थकों को पुलिस हिरासत में लिया गया है।2016 में गुलेन ने तख्ता पलटने की रची थी साजिश
समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार यह कार्रवाई अंकारा में मुख्य लोक अभियोजक कार्यालय द्वारा की जा रही जांच के सिलसिले में की गई। तुर्की सरकार का आरोप है कि अमरीका में रह रहे गुलेन ने 2016 में उसका तख्ता पलटने की साजिश रची थी। तख्तापलट की इस साजिश में देश में 249 लोग मारे गए थे।
आपको बता दें कि तुर्की ने पिछले साल जुलाई में राष्ट्रपति रज्जब तैयब एर्दोगन के तख्तापलट के असफल प्रयास के मामले में 30 जनवरी को अब तक का सबसे बड़ा मुकदमा शुरू किया था। तख्तापलट के प्रयास के कथित मुख्य सरगना फतेउल्ला गुलेन समेत 270 संदिग्धों के खिलाफ मुकदमा चलेगा। गुलेन के खिलाफ उसकी अनुपस्थिति में ही मुकदमा चलेगा। सरकारी संवाद समिति अनादोलू की खबर के अनुसार 152 संदिग्ध मुकदमे से पूर्व हिरासत में हैं। इनमें पूर्व उच्च पदस्थ सैन्य अधिकारी यथा पूर्व एजियन सैन्य कमान चीफ ऑफ स्टाफ मेजर जनरल मेमदूह हकबिलेन शामिल हैं। तुर्की बार-बार अमरीका से गुलेन का प्रत्यर्पण करने की मांग करता रहा है। गुलेन 1999 से ही निर्वासन में रह रहा है।

You May Also Like

English News